scorecardresearch
 

UP: ''जिगोलो बन जाओ, मस्ती भी- मोटी कमाई भी', लालच के चक्कर में लुटे दर्जनों लोग

जिगोलो बनाने के साथ ही नौकरी लगवाने और बैंक लोन दिलवाने के नाम पर लोगों को चूना लगाने वाले तीनों शातिर साइबर क्रिमिनल को आगरा की सदर थाना पुलिस और साइबर सील टीम ने गिरफ्तार कर लिया है.

X
सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • तीन साइबर ठग गिरफ्तार
  • दर्जनों लोगों को लगा चुके हैं चूना

उत्तर प्रदेश के आगरा में जिगोलो बनाने के नाम पर चूना लगाने वाले तीन शातिर बदमाश गिरफ्तार कर लिए गए हैं. यह सभी जिगोलो बनाने के साथ ही नौकरी लगवाने और बैंक लोन दिलवाने के नाम पर लोगों को चूना लगाते थे. तीनों शातिर साइबर क्रिमिनल को आगरा की सदर थाना पुलिस और साइबर सील टीम ने गिरफ्तार कर लिया है.

गिरोह के सदस्य लोगों को फोन पर जिगोलो बनाने का लालच देते थे. मोटी कमाई करने का लालच देते थे. गिरोह के सदस्य फोन पर बात करने के बाद अपने खाते में रुपया जमा करवा लेते थे. खाते में रुपया आते ही टाटा बाय-बाय बोलकर मोबाइल नंबर बंद कर देते थे. गिरोह के सदस्य अब तक दर्जनों लोगों को बड़ा चूना लगा चुके हैं.

निजी बैंक के मैनेजर करन गुप्ता ने मामले की शिकायत सदर थाने में दर्ज कराई थी. सदर थाना पुलिस टीम और साइबर सेल ने कार्रवाई करते हुए गिरोह में शामिल सरगना नालंदा बिहार निवासी भोला और आगरा के खेड़ा राठौर निवासी सोनू और मुकेश को गिरफ्तार कर लिया.

पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से 3 फर्जी आईडी, फर्जी लोन अप्रूवल लेटर, मोबाइल फोन बरामद किया है. गिरोह के सदस्य फर्जी दस्तावेज दिखाकर , लोन दिलाने के नाम पर लोगों से बड़ी ठगी कर चुके हैं. पुलिस टीम गिरोह में शामिल अन्य लोगों की तलाश में जुट गई है.

पूछताछ में गैंग सरगना भोला ने बताया कि सस्ती दरों पर लोन, स्पा सेंटर, प्ले बॉय के नाम पर ठगी की जाती थी, पहले अखबार में विज्ञापन दिया जाता था, फिर लोगों से 5 से 35 हजार रुपये वसूले जाते, जब पैसा खाते में आ जाता था, तब यह अपना मोबाइल बंद करके फरार हो जाते थे.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें