scorecardresearch
 

आगरा में ट्रिपल मर्डर से सनसनी, पति-पत्नी और बेटे को घर में जिंदा जलाया

आगरा के किशनलाल इलाके में एक परिवार के तीन लोगों की हत्या से सनसनी फैल गई. तीनों के शव जली हालत में कमरे में मिले, मौके पर पहुंच पुलिस ने जांच शुरू कर दी है. पुलिस सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है.

आगरा में एक परिवार के तीन लोगों की हत्या (फोटो आजतक) आगरा में एक परिवार के तीन लोगों की हत्या (फोटो आजतक)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • तीन लोगों की हत्या से मची सनसनी
  • एक ही परिवार के 3 लोगों की हत्या
  • पति-पत्नी और बेटे को जिंदा जलाया

यूपी के आगरा में एक परिवार के तीन लोगों की हत्या से सनसनी फैल गई. यह घटना एत्माद्दौला के नगला किशनलाल इलाके की है. मरने वालों में पति, पत्नी और बेटा शामिल हैं. तीनों के शव घर पर जले मिले. सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और मामले की जांच में जुट गई है. पुलिस इलाके का सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है.  

मृतकों में रघुवीर (55), पत्नी मीरा और 22 साल का बेटा बबलू शामिल हैं. रघुवीर परचून की दुकान चलाता था और रविवार शाम को ही ससुराल से लौटकर आया था. पुलिस को अंदेशा है कि तीनों की हत्या की गई है. लेकिन कई एंगल से इस मामले की जांच की जा रही है. 

कमरे में बंद मिले तीनों के शव 

सोमवार की सुबह जब लोगों ने कमरे में बंद तीनों के शव देखे तो उनके होश उड़ गए. उन्होंने बताया कि बबलू और मीरा के हाथ बंधे हुए थे. जबकि रघुवीर के गले में फंदा पड़ा हुआ था. सूचना पर एसएसपी बबलू कुमार टीम के साथ मौके पर पहुंचे. बताया जा रहा है कि सुबह छह बजे दूध वाला आया था और आवाज देने पर भी किसी ने दरवाजा नहीं खोला. इसके अलावा बबलू रोज सुबह साढ़े पांच बजे के आसपास अपनी दुकान खोलता है लेकिन उसने दुकान भी नहीं खोली. 

पुलिस मामले की जांच में जुटी

पुलिस इस मामले की गंभीरता से जांच कर रही है पूछताछ में रिश्तेदारों ने बताया कि इनकी किसी के साथ कोई रंजिश भी नहीं थी. वहीं आस-पड़ोस के लोगों का कहना है कि आग लगी होती तो इसका पता चल जाता और चीखने की आवाज भी किसी ने नहीं सुनी. आगरा जोन के एडीजी अजय आनंद समेत पुलिस का अमला मौके पर है और जांच में जुटा है. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें