scorecardresearch
 

कासगंज ट्रिपल मर्डर में एक्शन: कोतवाल का तबादला, SI समेत तीन पुलिसकर्मी लाइनहाजिर

कासगंज ट्रिपल मर्डर पर योगी सरकार ने कार्रवाई की है. सोरों कोतवाली प्रभारी रिपुदमन सिंह को हटा दिया गया है. इसके साथ ही एसआई मोहर सिंह तोमर, हलका इंचार्ज भंवर सिंह औऱ सिपाही सनोज को लाइन हाजिर कर दिया गया है.

उत्तर प्रदेश पुलिस (फाइल फोटो) उत्तर प्रदेश पुलिस (फाइल फोटो)

  • एक ही परिवार के तीन लोगों की हुई थी हत्या
  • सोरों कोतवाल रिपुदमन सिंह का तबादला
  • एसआई मोहर सिंह समेत तीन पुलिसकर्मी नपे

उत्तर प्रदेश के कासगंज में ट्रिपल मर्डर पर योगी सरकार ने कार्रवाई की है. सोरों कोतवाली प्रभारी रिपुदमन सिंह को हटा दिया गया है. इसके साथ ही सब इंस्पेक्टर (एसआई) मोहर सिंह तोमर, हलका इंचार्ज भंवर सिंह औऱ सिपाही सनोज को लाइन हाजिर कर दिया गया है. सोरों के होड़लपुर में एक ही परिवार के तीन लोगों की निर्मम हत्या कर दी गई थी.

जानकारी के मुताबिक, सोरों इलाके में कुछ साल पहले ऑनर किलिंग हुई थी. इसके बाद से दो पक्षों में रंजिश चल रही थी. रविवार को एक पक्ष ने दूसरे पर धावा बोल दिया और ताबड़तोड़ गोलियां चलाकर तीन लोगों का कत्ल कर दिया. इस फायरिंग के दौरान दो लोग गंभीर रूप से घायल हो गए, जिनका इलाज चल रहा है.

गोरखपुर में एक करोड़ की फिरौती के लिए 5वीं के छात्र की हत्या

मामूली रंजिश में तीन लोगों की हत्या से सकते में आई पुलिस ने ताबड़तोड़ कार्रवाई करते हुए करीब आधा दर्जन लोगों को गिरफ्तार किया है, जिनसे घटना के बारे में पूछताछ की जा रही है. घटना की गंभीरता को देखते हुए मौके पर पहुंचे अलीगढ़ रेंज के डीआईजी दीपक रतन ने कड़ी कार्रवाई की बात कही है.

डीआईजी दीपक रतन की माने तो दोनों पक्षों के बीच में पुरानी रंजिश की बात सामने आ रही है. उन्होंने कहा कि पिछले साल एक मुकदमा दर्ज हुआ था. उसके परिपेक्ष्य में यह घटना प्रतीत हो रही है. इसकी विवेचना चल रही है और मामले की पूरी पड़ताल की जा रही है.

यूपी में रोज बन रहे गुंडाराज के रिकॉर्ड, गोरखपुर में हत्या पर प्रियंका का तंज

इस हत्याकांड के बाद समाजवादी पार्टी ने योगी सरकार पर निशाना साधा. पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा, 'कासगंज में एक ही परिवार के 3 लोगों की हत्याओं से प्रदेश दहल गया है. हत्यारों के फरार होने की खबर है. यूपी में धारावाहिक आपराधिक घटनाओं को देखकर लगता है कि प्रदेश की बागडोर अब शायद भाजपा सरकार के हाथ से निकलकर बदमाशों के हाथों में चली गयी है.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें