scorecardresearch
 

दिल्ली में जानलेवा गुस्सा! बहस के बाद चार लोगों ने युवक का सरेआम कर दिया मर्डर, Video

11 अगस्त को 25 साल का मयंक मालवीय नगर इलाके में बेगमपुर में एक किला में अपने दोस्त के साथ बैठा हुआ था, तभी 4-5 अज्ञात लोगों से मयंक की किसी बात को लेकर बहस हुई. इसके बाद मयंक को घेर कर भीड़-भाड़ वाले मार्केट में ताबड़तोड़ चाकुओं से हमला कर दिया गया.

X
बीच सड़क में मयंक की हत्या बीच सड़क में मयंक की हत्या

साउथ दिल्ली के मालवीय नगर इलाके में 22 साल के नौजवान की बीच सड़क पर 4 से 5 लोगों ने मिलकर हत्या कर दी. भीड़-भाड़ वाले मार्केट में बीच सड़क हत्याकांड को अंजाम दिया गया. मृतक होटल मैनेजमेंट की पढ़ाई कर चुका था.  वारदात का सीसीटीवी सामने आया. अभी हत्यारे पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं.

सीसीटीवी में भीड़ भाड़ वाले मार्केट में 4 से 5 लोग मयंक को घेर कर चाकू मार रहे हैं और भीड़ तमाशबीन बनी हुई है. बताया जा रहा है कि 11 अगस्त को 22 साल का मयंक मालवीय नगर इलाके में बेगमपुर में एक किला में अपने दोस्त के साथ बैठा हुआ था, तभी 4-5 अज्ञात लोगों से मयंक की किसी बात को लेकर बहस हुई.

मृतक मयंक

4-5 लड़कों ने मयंक और उसके दोस्त पर पत्थरों से हमला किया. मयंक और उसका दोस्त किला से अपनी जान बचाकर भागे. आरोपी किले से मयंक का पीछा करते हुए मालवीय नगर इलाके के DDA मार्केट में पहुंचे और फिर मयंक को घेर कर भीड़-भाड़ वाले मार्केट में ताबड़तोड़ चाकुओं से हमला कर दिया.

यहां देखिए वीडियो-

सीसीसीटीवी में साफ दिखाई दे रहा है कि कैसे मयंक पर आरोपी लड़के चाकुओं से वार कर रहे हैं और बाकी लोग तमाशबीन बने हुए हैं. मयंक को अधमरा छोड़ कर आरोपी फरार हो गए. मयंक के दोस्त ने सड़क पर मौजूद लोगों की मदद से घायल अवस्था में मयंक को AIIMS में भर्ती करवाया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई.

परिवार वाले इस मामले में पुलिस पर गंभीर आरोप लगा रहे हैं. लाश हॉस्पिटल में है, लेकिन पोस्टमार्टम नहीं करवाया जा रहा है. जो जांच अधिकारी नियुक्त किया गया है, वह अपने व्यक्तिगत काम में और कागजी कार्रवाई निपटाने में ही लगे हुए हैं. परिवार वालों को ना ही कोई गिरफ्तारी की जानकारी दी जा रही है और ना ही वारदात के बारे में बताया गया है. 

किसका मर्डर हुआ है?
 
जिस लड़के का मर्डर हुआ है, उसका नाम मयंक पवार बताया गया है. उसकी उम्र 22 साल के आसपास है. उसके चाचा प्रदीप पंवार ने बताया कि उनका भतीजा कल दोपहर 2:00 बजे के बाद घर से निकला था, उसके बाद क्या हुआ कुछ पता नहीं चला, जब रात में जानकारी मिली और हॉस्पिटल पहुंचा तो वहां पर मयंक के एक दोस्त ने बताया कि पत्थरबाजी हुई थी, लेकिन किसके बीच क्या हुई, इसके बारे में कोई जानकारी नहीं है. पता चला है कि एक गार्ड को पुलिस ने पकड़ा है.

मयंक की एक रिलेटिव सोनल सिंह ने बताया कि कल रात से हम सब घर वाले परेशान हैं, पुलिस कुछ भी नहीं बता रही है, ना ही कोई कार्रवाई कर रही है. हत्या की वजह क्या है? इसको लेकर भी कोई साफ नहीं हो पाया है. मयंक के एक चचेरे भाई ने बताया कि देर शाम यह घटना हुई है, जब मयंक के दोस्त ने फोन करके बताया कि उसके साथ छीना झपटी हुई है, विरोध करने पर चाकू से ब्लेड से हमला किया गया है. मयंक होटल मैनेजमेंट का भी पढ़ाई कर रखा था.

इस मामले में डीसीपी बेनिता मेरी जैकर ने कहा कि जिन लोगों ने वारदात को अंजाम दिया है, उसकी पहचान की जा रही है, जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें