scorecardresearch
 

जयपुर: बेटे ने रची अपने ही अपहरण की साजिश, पिता से मांगी ढाई लाख की फिरौती

जयपुर पुलिस ने जब अपहरणकर्ताओं से पूछताछ की तो पता चला कि अपहरण की साजिश शिकायत करने वाले पिता के बेटे विकास ने ही रची थी. इस मामले में उसने अपने दो दोस्तों यादराम गुर्जर और लोकेंद्र सिंह को शामिल किया था. पुलिस ने इन तीनों को गिरफ्तार कर लिया है.

X
पुलिस की गिरफ्त में आरोपी (फोटो- पीटीआई) पुलिस की गिरफ्त में आरोपी (फोटो- पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बेटे ने रची खुद की किडनैपिंग की साजिश
  • पुलिस ने मामले का किया पर्दाफाश
  • दोस्तों के साथ मिलकर मांगे थे ढाई लाख

जयपुर में जब एक युवक को उधारी चुकाने के लिए पिता ने पैसे नहीं दिए तो उसने खुद की किडनैपिंग की साजिश रच डाली और अपने दोस्तों के जरिए पिता से खुद की फिरौती मांगने लगा. जयपुर पुलिस ने इस केस में फुर्ती से काम लिया और कुछ ही घंटे में मामले का खुलासा कर दिया. 

जयपुर पुलिस को सूचना मिली कि अपहरणकर्ताओं ने मालवीय नगर में एक लड़के का अपहरण कर लिया है और वीडियो जारी कर ढाई लाख रुपये की फिरौती मांगी है. वीडियो में लड़के के हाथ पैर बंधे हुए थे और दो लोग उसकी पिटाई कर रहे थे. ये वीडियो अजमेर के केकड़ी में रहने वाले लड़के के पिता को भेजा गया था. इस वीडियो के आते ही परिवार में अफरा-तफरी मच गई. 

पुलिस तुरंत किडनैपर्स की तलाश में जुट गई. पुलिस ने तुरंत किडनैपर्स को गिरफ्तार कर लिया. जयपुर के DCP राहुल जैन ने बताया कि केकड़ी के रहनेवाले प्रेम सिंह ने अपने बेटे के अपहरण की सूचना दी थी और कहा था कि उनका बेटा 2 दिन से पैसे मांग रहा था. मगर रात साढ़े बारह बजे उनके पास यह वीडियो आया जिसमें अपहरणकर्ताओं ने उसके बच्चे को बांध रखा था और ढाई लाख रुपये की फिरौती मांग रहे थे. 

देखें: आजतक LIVE TV

पुलिस ने जब अपहरणकर्ताओं से पूछताछ की तो पता चला कि अपहरण की साजिश शिकायत करने वाले पिता के बेटे विकास ने ही रची थी. इस मामले में उसने अपने दो दोस्तों यादराम गुर्जर और लोकेंद्र सिंह को शामिल किया था. पुलिस ने इन तीनों को गिरफ्तार कर लिया है.

आरोपी विकास ने बताया कि वह क्रेडिट कार्ड बनाने का काम करता है और कुछ लोगों से 70 हजार रुपये उधार लिए थे. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें