scorecardresearch
 

सिद्धू मूसेवाला का बदला लेने का ऐलान कर चुके हैं ये गैंग, सभी जेल में हैं बंद

अब तक सिद्धू मूसेवाला के हत्यारे को गैंगस्टर नीरज बवाना, टिल्लू ताजपुरिया गैंग, कौशल गुड़गांव गैंग, देवेंदर बंबीहा ग्रुप, भूप्पी राणा गैंग और विक्की गौंडर एंड ब्रदर्स की ओर से धमकी मिल चुकी है. आइए जानते हैं इनके बारे में-

X
सिद्धू मूसेवाला (फाइल फोटो) सिद्धू मूसेवाला (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सिद्धू मूसेवाला की हत्या से गुस्से में कई गैंग
  • दिल्ली-एनसीआर में गैंगवार की आशंका

सिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद ही अंदाज़ा हो गया था कि ये आग अब दूर तक फैलेगी. बीते 5 दिनों में जिस तरह पंजाब और पंजाब के बाहर के गैंग ने इस मामले में सोशल मीडिया पर धमकियों की बौछारें की है. उससे इस बात की आशंका को बल मिल गया है कि देर सबेर पंजाब में ज़बरदस्त खून खराबा हो सकता है.

इस बीच लॉरेंस बिश्नोई ने मान लिया है कि उसके गैंग ने ही सिद्धू मूसेवाला की हत्या है. अब तक सिद्धू मूसेवाला के हत्यारे को गैंगस्टर नीरज बवाना, टिल्लू ताजपुरिया गैंग, कौशल गुड़गांव गैंग, देवेंदर बंबीहा ग्रुप, भूप्पी राणा गैंग और विक्की गौंडर एंड ब्रदर्स की ओर से धमकी मिल चुकी है. आइए जानते हैं पांच दिन में मूसेवाला को धमकी देने वाला इन गैंग ने क्या कहा-

- नीरज बवाना दिल्ली एनसीआर- 'सिद्धू मूसेवाला हमारा दिल का भाई था. दो दिन के अंदर रिजल्ट दे देंगे'

- टिल्लू ताजपुरिया गैंग- 'सिद्धू मूसेवाला भाई था, उनकी आत्मा को शांति मिले'

- कौशल गुड़गांव गैंग- 'यार का बदला यार लेगा जार नहीं'

- देवेंदर बंबीहा ग्रुप- 'असी उसदी मौत दा बदला ज़रूर लेवांगे... साड्डा अमर रहू... साड्डे दिल्लां च'

- विक्की गौंडर एंड ब्रदर्स- 'सिद्धू मूसेवाला के क़ातिलों जल्दी मुलाक़ात होगी'

- भूप्पी राणा गैंग- 'एक-एक से हिसाब लिया जाएगा, सिद्धू के परिवार, दोस्त और प्रशंसकों से हमारी हमदर्दी है, हम सिद्धू को वापस नहीं ला सकते लेकिन मौत का बदला जरूर लेंगे.'

कई गैंग एक साथ आए, पुलिस परेशान

देश के इतिहास में इससे पहले ऐसा कभी नहीं हुआ. गैंगवॉर की तारीख़ में भी शायद ये पहली बार हो रहा है. पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला के क़त्ल के बाद आपस में ही लड़ मरने वाले कई गैंग एक साथ आ गए हैं. इस ऐलान और धमकी के साथ कि मूसेवाला के क़त्ल का बदला वो ख़ुद लेंगे. अलग-अलग गैंग की इस ऐलानिया धमकी से पुलिस परेशान है.

सूरत-ए-हाल ये कि जिस गैंग पर सिद्धू मूसेवाला के क़त्ल का इल्ज़ाम है, वो भी जेल में है और जो गैंग क़त्ल का बदला लेने की धमकी दे रहे हैं वो सब भी जेल में हैं. और बस इसीलिए बाहरी पुलिस से ज़्यादा अलग-अलग जेलों के जेल स्टाफ और अफ़सर ज़्यादा घबराए हुए हैं. डर इस बात का है कि कहीं जेल में ही गैंगवॉर ना हो जाए.

किसने-किसने धमकी दी?

सिद्धू मूसेवाला के क़त्ल के बाद जिस गैंग ने सबसे पहले ऐलानिया बदला लेने की बात कही, वो दिल्ली का गैंगस्टर नीरज बवाना था. नीरज बवाना के बाद मूसेवाला की मौत का बदला लेने के लिए जो दूसरा गैंग सामने आया उसका नाम है देवेंदर बंबिहा गैंग, देवेंदर बंबीहा पहले ही मारा जा चुका है, लेकिन उसका गैंग अब भी एक्टिव है.

फिलहाल इस गैंग को गैंगस्टर लकी पटियाल चला रहा है. हालांकि लकी पटियाल भी इस वक़्त आर्मेनिया की जेल में बंद है. इस गैंग की तरफ़ से सोशल मीडिया के ज़रिए मूसेवाला की मौत का बदला लेने के लिए कुछ इस तरह धमकी दी गई है. जिस तीसरे गैंग और गैंगस्टर ने सिद्धू मूसेवाला के क़त्ल का बदला लेने की बात कही है, उसका नाम कौशल चौधरी है.

कौशल चौधरी गुरुग्राम का गैंगस्टर है. धमकी के लिए इसने भी सोशल मीडिया का सहारा लिया, लेकिन इसने धमकी के साथ-साथ दो तस्वीरें भी शेयर की हैं. क्रॉस के निशान के साथ. ये दो तस्वीरें पंजाबी गायक मनकीरत औलख और गैंगस्टर लॉरेंस विश्नोई की हैं. 

जिस चौथे गैंगस्टर ने मूसेवाला की मौत का बदला लेने का ऐलान किया है, उसका नाम टिल्लू ताजपुरिया है. ये भी इस वक़्त तिहाड़ के मंडोली जेल में बंद है. धमकी के लिए इसने भी सोशल मीडिया का सहारा लिया. सुक्खा काहलों को पुलिस हिरासत में गोलियों से छलनी कर देनेवाले विक्की गौंडर गैंग ने भी लॉरेंस विश्नोई और गोल्डी बराड़ को खुली धमकी दी है.

धमकी देनेवालों की क़तार में सबसे ताज़ा धमकी और धमकी के साथ इनाम का ऐलान करनेवाला गैंगस्टर है भूप्पी राणा. हरियाणा के इस गैंगस्टर को भी धमकी देने के लिए सोशल मीडिया पर आना पड़ा. इसने धमकी के साथ-साथ मूसेवाला के क़ातिल का और शूटर का नाम-पता बतानेवाले को पांच लाख रुपये इनाम देने का ऐलान किया है.

धमकी देने वाले सभी जेल में ही बंद हैं

तो ये तो रही पांच अलग-अलग गैंगस्टर की मूसेवाला के क़त्ल का बदला लेने की ऐलानिया धमकी. ज़ाहिर है इन पांचों गैंगस्टर के निशाने पर जो गैंगस्टर है, वो लॉरेंस बिश्नोई और गोल्डी बराड़ है. इन धमकियों के पीछे की एक अजीब कहानी ये है कि जिसे धमकी दी जा रही है और जो धमकी दे रहे हैं, वो सभी अलग-अलग किसी ना किसी जेल में बंद हैं.

जैसे लॉरेंस विश्नोई तिहाड़ में बंद है. नीरज बवाना तिहाड़ में ही है. टिल्लू ताजपुरिया तिहाड़ के ही मंडोली जेल में है. कौशल चौधरी पंजाब के गुरदासपुर जेल में है, जबकि भूप्पी राणा करनाल जेल में बंद है. कुल मिलाकर, सिद्धू मूसेवाला के क़त्ल के बाद दिल्ली हरियाणा और पंजाब में एक बड़े गैंगवॉर की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें