scorecardresearch
 

महाराष्ट्र: सांसद की हत्या के लिए 2 करोड़ की सुपारी, इस गैंग का आया नाम

सांसद संजय जाधव ने नानलपेठ पुलिस थाने में इस मामले की शिकायत दर्ज कराई है. इतना ही नहीं उन्होंने हत्या की सुपारी वाली बात मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को बताई है. परभणी पुलिस ने इस मामले की जांच शुरू कर दी है.

सांसद संजय जाधव (फोटो- ट्विटर) सांसद संजय जाधव (फोटो- ट्विटर)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • शिवसेना सांसद की हत्या के लिए दी गई सुपारी?
  • सांसद संजय जाधव ने सीएम ठाकरे से की बात
  • परभणी पुलिस ने शुरू की मामले की जांच

महाराष्ट्र के परभणी से शिवसेना सांसद संजय जाधव ने पुलिस को शिकायत देकर कहा है कि उनकी हत्या के लिए 2 करोड़ रुपये की सुपारी दी गई है. पुलिस में दर्ज शिकायत के अनुसार 18 अक्टूबर को उन्हें सूचना मिली की एक प्रभावशाली शख्स ने नांदेड के रिंदा गैंग को उनकी हत्या करने के लिए 2 करोड़ रुपये की सुपारी दी है. 

सांसद संजय जाधव ने नानलपेठ पुलिस में इस मामले की शिकायत दर्ज कराई है. इतना ही नहीं  उन्होंने हत्या की सुपारी वाली बात मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को बताई है. परभणी पुलिस ने इस मामले की जांच शुरू कर दी है. 

सांसद संजय जाधव ने कहा कि, "पिछले 30 से 35 वर्षों से मैं राजनीति में सक्रिय हूं, इस कार्यकाल में काफी उतार चढ़ाव आए हैं, लेकिन इस तरह की राजनीति कभी परभणी जिले में नही हुई, सुपारी देने वालों को आत्मनिरीक्षण करना चाहिए."

देखें: आजतक LIVE TV 

सांसद संजय जाधव 30 से 35 वर्ष की आयु में राजनीति में शामिल हुए थे, बतौर शिवसैनिक उन्होंने अपना राजनीतिक सफर शुरू किया था. शाखा प्रमुख के बाद शिवसेना के परभणी जिला अध्यक्ष बनाये गए. पार्टी ने उन्हें 2 बार विधानसभा चुनाव प्रत्याशी के रूप में मैदान में उतारा था, दोनों बार वह चुनाव जीतने में सफल रहे. 

2014 में संजय जाधव को शिवसेना ने लोकसभा प्रत्याशी के रूप में उतारा था, यह चुनाव भी संजय जाधव जीत गए. इसके बाद 2019 में वो परभणी से दोबारा चुनाव जीतकर परभणी के सांसद बने. 

हालांकि अभी कुछ दिन पहले उन्होंने सांसद पद से इस्तीफा देने की पेशकश की थी. इस वजह से वह चर्चा में आ गए थे. बाद में सीएम ठाकरे से भरोसा मिलने के बाद उन्होंने अपना इस्तीफा वापस ले लिया था.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें