scorecardresearch
 

दानापुर: बच्चों को CAA/NRC के खिलाफ पढ़ाया, स्कूल संचालकों पर देशद्रोह का मामला

ये मामला पटना जिले के दानापुर कैंट मध्य विद्यालय के परिसर में संचालित ज्ञान-विज्ञान रैंबो होम का है. इस स्कूल में छात्राओं को एनआरसी और सीएए कानून के बारे में पढ़ाया जा रहा था.

X
दानापुर स्थित स्कूल जहां CAA के खिलाफ पढ़ाया जा रहा था
दानापुर स्थित स्कूल जहां CAA के खिलाफ पढ़ाया जा रहा था
स्टोरी हाइलाइट्स
  • दानापुर थाने में धारा 124ए के तहत मामला दर्ज
  • CAA/NRC के खिलाफ बच्चों को पढ़ाया जा रहा था
  • राष्ट्रीय बाल संरक्षण आयोग ने लिया स्वतः संज्ञान

एक स्कूल में बच्चों को सीएए और एनआरसी के बारे में पढ़ाने पर स्कूल पर देशद्रोह का मामला दर्ज कर लिया गया है. इस मामले में राष्ट्रीय बाल संरक्षण अधिकार आयोग ने स्वत संज्ञान लिया है. जिसके बाद दानापुर थाने में आईपीसी की धारा 124 ए 153 ए 502(2) के तहत FIR दर्ज कर ली गई है.

ये मामला पटना जिले के दानापुर कैंट मध्य विद्यालय के परिसर में संचालित ज्ञान-विज्ञान रैंबो होम का है. इस स्कूल में छात्राओं को एनआरसी और सीएए कानून के बारे में पढ़ाया जा रहा था. बाल संरक्षण आयोग ने इस संबंध में एक 3 पेज की चिट्ठी पटना एसएसपी समेत कई वरीय अधिकारियों को भी भेजी थी. उक्त चिट्ठी के आधार पर ही दानापुर थाने में कांड संख्या 238/21 में मामला दर्ज कर लिया गया है.

बताया जा रहा है कि राष्ट्रीय बाल संरक्षण अधिकार आयोग के अध्यक्ष प्रियंक कानूनगो इस स्कूल का निरीक्षण करने पहुंचे थे. तभी उन्होंने संस्था में रखे कुछ कागजातों को देखा. जिसमें उन्होंने पाया कि नाबालिग छात्राओं को CAA/NRC कानून के खिलाफ पढ़ाया जा रहा है. इसके बाद उन्होंने इस मामले में तुरंत एक्शन लिया और स्कूल के खिलाफ कार्रवाई के आदेश दे दिए.

पुलिस द्वारा प्राथमिकी दर्ज होने के बाद से विद्यालय के शिक्षक इस मामले पर कुछ भी बोलने से बच रहे हैं. मामला दर्ज होने के बाद जांच में पहुंची दानापुर थाने के की अनुसंधानकर्ता एसआई रीना कुमारी ने बताया कि देश में बने कानून सीएए और एनआरसी के खिलाफ बच्चों को पढ़ाए जाने का मामला है. फिलहाल इस मामले को दर्ज कर लिया गया है और जांच चल रही है. (इनपुट-मनोज सिंह)

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें