scorecardresearch
 

बिहार: कोरोना काल में लापरवाह दुकानदारों पर प्रशासन ने की बड़ी कार्रवाई, आधा दर्जन दुकानें सील

कोरोना के बढ़ते संक्रमण को लेकर डेहरी एसडीएम सुनील कुमार और एएसपी के नेतृत्व में आज चेकिंग अभियान चलाया गया. उन दुकानों को टारगेट किया गया, जहां अत्यधिक भीड़ भाड़ देखी जा रही थी. लोगों को बिना मास्क के दुकानों में प्रवेश दिया गया था. इसके अलावा दो गज दूरी नियम का पालन भी नहीं किया जा रहा था.

दुकानदारों पर प्रशासन ने कसा शिकंजा. दुकानदारों पर प्रशासन ने कसा शिकंजा.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • दुकानदारों पर प्रशासन ने कसा शिकंजा
  • आधा दर्जन दुकानें 48 घंटे के लिये सील
  • एसडीएम और एएसपी चेकिंग अभियान चलाया गया

बिहार के रोहतास जिले में कोरोना संक्रमण को हल्के में ले रहे दुकानदारों पर प्रशासन ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है. एसडीएम और एएसपी द्वारा संयुक्त रूप से चलाये गये चेकिंग अभियान में बिना मास्क दुकानों एंट्री देने वाले और सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाने वाले दुकानदारों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की गई है. प्रशासन ने करीब आधा दर्जन दुकानों को सील कर दिया. प्रशासन की इस कार्रवाई से दुकानदारों में अफरा-तफरी मची हुई है.

कोरोना के बढ़ते संक्रमण को लेकर डेहरी एसडीएम सुनील कुमार और एएसपी के नेतृत्व में आज चेकिंग अभियान चलाया गया. उन दुकानों को टारगेट किया गया, जहां अत्यधिक भीड़ भाड़ देखी जा रही थी. लोगों को बिना मास्क के दुकानों में प्रवेश दिया गया था.

देखें: आजतक LIVE TV 

इसके अलावा दो गज दूरी नियम का पालन भी नहीं किया जा रहा था. प्रशासन की टीम द्वारा ऐसी आधा दर्जन दुकानों को 48 घंटे के लिए सील कर दिया है, जिसमें कला निकेतन, बाजार इंडिया सिटी कार्ट मॉल और राज घराना नाम के फेमस शोरूम भी हैं.

एसडीएम सुनील कुमार ने दुकानदों को स्पष्ट निर्देश देते हुए कहा कि कोरोना को लेकर सरकार द्वारा जारी की गई गाइडलाइन का पालन  किया जाये. बिना मास्क के किसी भी ग्राहक को दुकान के अंदर प्रवेश नहीं देना है. इसके अलावा हर दुकान पर सैनिटाइजर रखना अनिवार्य है.

उन्होंने कहा कि कोरोना गाइडलाइन का पालन नहीं किये जाने पर दुकानदारों के खिलाफ डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज की जायेगी. नियमों का उल्लंघन करने पर एक साल के लिये दुकान को सील भी किया जा सकता है.

ये भी पढ़ें-

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें