scorecardresearch
 

गलत इंजेक्शन लगाने से गर्भवती और बच्चे की मौत, डॉक्टर कपल पर केस दर्ज

हॉस्पिटल में प्रसूता को गलत इंजेक्शन देने से मौत हो गई. प्रसूता की मौत के बाद बच्चे की भी गर्भ में मौत हो गई. इसको लेकर परिजनों ने अस्पताल में हंगामा खड़ा कर दिया और अस्पताल संचालक चिकित्सक दंपति डॉक्टर भरत लाल मीणा डॉक्टर और आशा मीणा के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज करने की मांग करने लगे.

गलत इंजेक्शन लगाने से गर्भवती और बच्चे की हुई मौत. गलत इंजेक्शन लगाने से गर्भवती और बच्चे की हुई मौत.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • परिजनों ने चिकित्सक दंपति के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई
  • परिजनों ने दंडनीय कार्रवाई करने की मांग की
  • परिजनों ने अस्पताल में किया हंगामा

राजस्थान के करौली में शनिवार देर शाम एक प्राइवेट भारत हॉस्पिटल में प्रसूता को गलत इंजेक्शन देने से मौत हो गई. प्रसूता की मौत के बाद बच्चे की भी गर्भ में मौत हो गई. इसको लेकर परिजनों ने अस्पताल में हंगामा खड़ा कर दिया और अस्पताल संचालक चिकित्सक दंपति डॉक्टर भरत लाल मीणा और डॉक्टर आशा मीणा के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज करने की मांग करने लगे.

इस बीच घटना की जानकारी लगते ही बड़ी संख्या में लोग हॉस्पिटल के बाहर जमा हो गए और हॉस्पिटल संचालक दंपति के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई की मांग करने लगे. सूचना पर कोतवाली थाना अधिकारी दिनेश चंद्र मीणा मौके पर पहुंचे.

मृतक प्रसूता के परिजनों को समझाने का प्रयास किया. उन्होंने  परिजनों को एफआईआर दर्ज कराने के लिए कहा. इस पर मृतक प्रसूता के ससुर श्याम माली ने  कोतवाली थाना करौली में अस्पताल संचालक दंपत्ति और वहां के स्टाफ के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई करने और पोस्टमॉर्टम की कार्रवाई करने की मांग की है.

देखें: आजतक LIVE TV 

इस दौरान प्राइवेट भारत हॉस्पिटल के संचालक डॉक्टर आशा मीना अस्पताल में ही मौजूद रहकर मृतक प्रसूता के परिजनों को लेकर बयान दे रही थी. आरोप है कि आशा मीना ने कहा कि आप कुछ भी कर लो हमारा कुछ भी नहीं हो सकता. जो हो गया वह हो गया. इस प्रकार के व्यवहार से वहां मौजूद लोग भड़क गए और उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग करने लगे.
 
कोतवाली थाने में मृतक प्रसूता के ससुर श्याम वाली ने एफआईआर दर्ज कराई है. मृतक प्रसूता के परिजनों ने  सख्त से सख्त दंडनीय कार्रवाई करने की मांग की है. पति हेमराज को जब अपनी पत्नी की मौत की खबर लगी तो वह बेहोश हो गया. परिजनों के मुताबिक, प्रसूता सीता के दो नन्हे बच्चे भी हैं और यह तीसरी डिलिवरी होनी थी. (इनपुट-गोपाल लाल)

ये भी पढ़ें

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें