scorecardresearch
 

MP: भिंड़ में जहरीली शराब बेचने वाले पर एक्शन, निर्माणाधीन मकान पर चलाई JCB

पुलिस ने अवैध शराब फैक्ट्री संचालन के आरोप में पकड़े गए धर्मवीर बघेल के निर्माणाधीन मकान को गिरा दिया है. पिछले दिनों इंदुर्खी गांव में जहरीली शराब से कई ग्रामीणों की मौत हो गई थी. जिसके चलते पुलिस लगातार कार्रवाई कर रही थी.

X
भिंड में पुलिस ने गिराया शराब बेचने वाले का घर. भिंड में पुलिस ने गिराया शराब बेचने वाले का घर.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • भिंड में जहरीली शराब से मौत का मामला
  • पुलिस ने एक आरोपी के मकान को गिराया
  • मामले में चार आरोपियों को किया गया अरेस्ट

यूपी की तरह मध्य प्रदेश में भी अपराधियों के घर पर बुलडोजर चलने लगा है. भिंड पुलिस ने अवैध शराब फैक्ट्री संचालन के आरोप में पकड़े गए धर्मवीर बघेल के स्वतंत्र नगर स्थित निर्माणाधीन मकान को धराशाई कर दिया.

दरअसल, पिछले दिनों इंदुर्खी गांव में हुई जहरीली शराब से ग्रामीणों की मौत के मामले में पुलिस द्वारा लगातार कार्रवाई की जा रही है.

पुलिस ने इस मामले में अब तक चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है. इनमें से एक आरोपी धर्मवीर बघेल के बारे में पुलिस को जानकारी मिली थी कि धर्मवीर बघेल का एक मकान उस स्थान पर बन रहा है जहां अवैध शराब फैक्ट्री संचालित थी.

इसी सूचना पर से पुलिस प्रशासन के अमले ने निर्माणाधीन मकान का पता लगाया और जेसीबी लेकर रविवार को निर्माणाधीन मकान पर पहुंच गए. यहां दो जेसीबी की मदद से पुलिस प्रशासन के अमले ने जहरीली शराब कांड के आरोपी धर्मवीर बघेल के निर्माणाधीन मकान को धराशाई कर दिया. 

बता दें कि इंदुर्खी गांव में जहरीली शराब से हुई मौत के मामले में यह जानकारी सामने आई थी कि यह शराब भिंड में स्वतंत्र नगर में संचालित अवैध शराब फैक्ट्री में बनाई गई थी और इंदुर्खी के कुछ ग्रामीणों के यहां आकर शराब के क्वार्टर तैयार किए थे. यहीं से मिली शराब को पीकर उनकी मौत हो गई.

इस पूरे मामले में सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भी भिंड एसपी समेत चंबल एडीजी को फटकार भी लगाई थी जिसके बाद अब पुलिस प्रशासन मिलकर इस मामले को सख्ती के साथ हैंडल कर रहा है. 

मध्य प्रदेश में जहरीली शराब का कहर

कुछ दिन पहले मध्य प्रदेश के मुरैना में जहरीली शराब पीने से 12 लोगों की मौत हो गई थी. मरने वाले दो अलग-अलग गांव के ग्रामीण थे. पुलिस के मुताबिक, सुमावली थाना इलाके के पहावली गांव में 5 और बागचीनी इलाके के मानपुर गांव में 7 लोगों की जहरीली शराब पीने से मौत हो गई थी. कई लोगों की हालत गंभीर भी थी. इसके बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट करके कहा था, ''मुरैना की बहुत दुर्भाग्यपूर्ण और दुखदायी घटना है. मामले की जांच जारी है, लेकिन प्रथम दृष्टया सुपरविजन में लापरवाही करने पर डिस्ट्रिक्ट एक्साइज अफसर को सस्पेंड किया गया है. जांच के बाकी तथ्य जैसे ही आयेंगे, जो भी दोषी होंगे, वो छोड़े नहीं जायेंगे. हम कठोर कार्रवाई करेंगे.''

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें