scorecardresearch
 

Jammu Kashmir: आतंकवाद पर NIA की बड़ी चोट, चार दहशतगर्दों को किया गिरफ्तार

बड़ी कार्रवाई करते हुए जांच एजेंसी ने चार कुख्यात आतंकियों को गिरफ्तार कर लिया है. जम्मू-कश्मीर में Target Killing और सेना के जवानों की शहादत के बाद से लगातार एक्शन लिया जा रहा है.

NIA  ने चार आतंकियों को किया गिरफ्तार ( पीटीआई फोटो- सांकेतिक) NIA ने चार आतंकियों को किया गिरफ्तार ( पीटीआई फोटो- सांकेतिक)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • NIA ने चार आतंकियों को किया गिरफ्तार
  • घाटी में एजेंसी का खास ऑपरेशन जारी

पिछले कुछ दिनों से जम्मू-कश्मीर में आतंकियों संग कई मौकौं पर सुरक्षाबल की मुठभेड़ हो चुकी है. कई जगहों पर टार्गेटेड किलिंग के जरिए आम लोगों को निशाना बनाया जा रहा है. एक तय रणनीति के तहत कई कश्मीरियों को मौत के घाट उतारा जा रहा है. अब इस मामले में NIA भी फुल एक्शन में आ चुकी है.

चार आतंकी हुए गिरफ्तार

बड़ी कार्रवाई करते हुए NIA ने चार कुख्यात आतंकियों को गिरफ्तार कर लिया है. ये बड़ी कामयाबी 12 अक्टूबर को 16 जगहों पर और 10 अक्टूबर को 15 जगहों पर छापेमारी करने के बाद मिली है.

जानकारी के लिए बता दें कि NIA टार्गेटेड किलिंग और सिविलियन की हत्या के मामले पर बड़ा क्रैक डाउन पिछले कुछ दिनों से लगातार कर रही है. इस समय जम्मू कश्मीर में आतंक का नेटवर्क ख़त्म करने के लिए NIA और IB की कॉउंटर टेरर की टीम मौजूद है. एक खास ऑपरेशन के तहत उन्हें घाटी भेजा गया है और आतंकियों को लेकर मिल रहे तमाम इनपुट के आधार पर ऐसी गिरफ्तारियां की जा रही हैं.

घाटी में एजेंसी का खास ऑपरेशन

खास बात ये भी है कि इस ऑपरेशन में कश्मीर पुलिस का भी NIA को पूरा सहयोग मिल रहा है. हर खुफिया जानकारी पर ध्यान दिया जा रहा है, आतंकियों की हर मूवमेंट को ट्रेस किया जा रहा है और फिर एक रणनीति बना उन पर शिकंजा कसा जा रहा है.

जांच एजेंसियों की इतनी सक्रियता इसलिए बढ़ गई है क्योंकि बीते कुछ दिनों में आतंकियों के हौसले कुछ ज्यादा ही बुलंद हो गए थे. ना सिर्फ सुरक्षाबलों पर हमला किया जा रहा था, बल्कि आम नागरिकों की भी दिन दहाड़े हत्या हो रही थी. ऐसे में अब आतंक पर चोट करने के लिए ये संयुक्त ऑपरेशन चलाया जा रहा है.

वहीं, से पुंछ में पांच जवान शहीद हुए हैं, सेना की कार्रवाई में काफी तेजी देखने मिली है. लगातार एनकाउंटर हो रहे हैं, आतंकियों के ठिकानों पर हमला किया जा रहा है और तमाम दहशतगर्दों का सफाया करने का प्रयास है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें