scorecardresearch
 

यूपीः मां के साथ थे चाचा के अवैध संबंध, बेटे और दामाद ने कर दिया मर्डर

चंदौली में चार महीने पहले हुई एक अधेड़ शख्स की हत्या की गुत्थी को पुलिस ने सुलझा लिया है. इस मामले में पुलिस ने मृतक के भतीजे और उसके जीजा को गिरफ्तार कर जेल भेजा है.

X
पुलिस ने हत्या के आरोपियों को अरेस्ट किया पुलिस ने हत्या के आरोपियों को अरेस्ट किया
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पुलिस ने हत्या का खुलासा किया
  • चाचा की हत्या के पीछे भतीजा

उत्तर प्रदेश के चंदौली में चार महीने पहले हुई एक अधेड़ शख्स की हत्या की गुत्थी सुलझाने का दावा पुलिस ने किया है. इस मामले में पुलिस ने मृतक के भतीजे और उसके जीजा को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. इस ब्लाइंड मर्डर मिस्ट्री के पीछे की जो कहानी सामने आई है, वो काफी हैरान करने वाली है. आरोप है कि कि मृतक के अपनी भाभी से अवैध संबंध थे और यह बात उसके भतीजे को पता चल गई थी. फिर भतीजे ने अपने जीजा के साथ मिलकर अधेड़ को गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया. भतीजे ने वारदात को उस वक्त अंजाम दिया जब वो रात में घर के बाहर खेत में बने मचान पर सो रहा था.

दरअसल पिछले 20/21 जुलाई की रात चंदौली जिले के अलीनगर थाना क्षेत्र के काशीपुर गांव में घर के बाहर खेत पर बने मचान पर गुड्डू चौहान नाम के व्यक्ति की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. पुलिस इस मर्डर मिस्ट्री को सुलझाने में लगी हुई थी लेकिन किसी भी तरह का सुराग नहीं मिल पा रहा था. तकरीबन 4 महीने बाद पुलिस ने गुड्डू चौहान की हत्या के आरोप में उसी के भतीजे राजेश को गिरफ्तार कर लिया. आरोप है कि राजेश ने अपने जीजा जोगिंदर चौहान के साथ मिलकर इस वारदात को अंजाम दिया था.

भतीजे ने जीजा के साथ मिलकर चाचा को मौत के घाट उतारा

चंदौली के एसपी अंकुर अग्रवाल ने बताया कि अलीनगर क्षेत्र में 21 जुलाई 2021 को एक हत्या हुई थी जिसमें गुड्डू चौहान नाम के व्यक्ति को गोली मारी गई थी. इस केस में काफी दिन से जांच चल रही थी लेकिन कोई सुराग हाथ नहीं लग रहा था. केस से जुड़े सभी फैक्ट्स को देखा गया तो जानकारी मिली की एक राजेश और जोगिंदर इसमें संलिप्त हैं. राजेश मृतक का भतीजा है और जोगिंदर उसका बहनोई है.

पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा

पुलिस का दावा है कि पूछताछ में पता चला कि राजेश की मां से मृतक के अवैध संबंध थे. राजेश ने चाचा को मारने की साजिश रच डाली और अपने जीजा के सहयोग से 20 जुलाई की रात इस घटना को अंजाम दे दिया. इस खुलासे के लिए अलीनगर पुलिस, स्वाट टीम और क्राइम ब्रांच की टीम को लगाया गया था. दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर पुलिस ने जेल भेज दिया है. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें