scorecardresearch
 

कर्नाटक: 40 करोड़ की संपत्ति के लिए महिला की हत्या, पति और बेटी गिरफ्तार

पुलिस ने एक महिला की हत्या के मामले को सुलझाते हुए सात आरोपियों को गिरफ्तार किया है. आरोपियों में मृतक महिला का पति और उसकी बेटी शामिल है. यह हत्या 40 करोड़ रुपये की संपत्ति हासिल करने के इरादे से की गई. पुलिस ने 7 आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

X
(Images for representation: Getty Images) (Images for representation: Getty Images)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 40 करोड़ की संपत्ति के लिए हत्या
  • हत्या के मामले पति-बेटी गिरफ्तार

कर्नाटक पुलिस ने एक महिला की हत्या के मामले को सुलझाते हुए सात आरोपियों को गिरफ्तार किया है. आरोपियों में मृतक महिला का पति और उसकी बेटी शामिल है. 27 दिसंबर की रात अर्चना रेड्डी नाम की महिला की हत्या कर दी गई थी. इस हत्या के पीछे की असली वजह 40 करोड़ की संपत्ति बताई जा रही है. पुलिस का कहना है कि आरोपियों ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है. मृतक महिला के बेटे ने इस मामले में पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी. 

40 करोड़ की संपत्ति के लिए हत्या

पुलिस ने बताया कि पिता और बेटी ने मृतक महिला अर्चना की संपत्ति हासिल करने के लिए उसकी हत्या की साजिश रची थी. पुलिस ने बताया कि प्रत्यक्षदर्शी, सीसीटीवी फुटेज और शिकायत के आधार पर जांच की गई. तो सारा सच सबके सामने आ गया. मृतक महिला का पति नवीन ने पांच हथियारबंद बदमाशों के साथ अपनी पत्नी पर घात लगाकर हमला किया और चाकू से गोदकर उसे मौत की नींद सुला दिया.  

हत्या में पति और बेटी शामिल 

पुलिस को मिले सीसीटीवी फुटेज के मुताबित मृतक महिला का पति उस पर चाकू से हमला करता हुआ दिखाई दे रहा है. उसके साथ पांच लोग भी दिखाई दे रहे हैं. जानकारी के मुताबित आरोपी नवीन के अवैध संबंधों की जानकारी भी उसकी पत्नी को थी. वहीं पति को भी इस बात का शक था कि उसकी पत्नी के किसी के साथ अवैध संबंध थे. पिछले काफी समय से घर में विवाद चल रहा था.  

पुलिस ने सात आरोपियों को किया गिरफ्तार

डीसीपी साउथ इस्ट श्रीनाथ एम जोशी के मुताबिक, मृतका के दूसरे पति नवीन कुमार और उसके सहयोगियों संतोष और अन्य को प्रारंभिक जांच के बाद गिरफ्तार कर लिया गया है.  पुलिस ने मृतका की बेटी को संदिग्ध मानते हुए उसे भी गिरफ्तार किया है. आशंका है कि पिता और बेटी ने मृतक महिला की संपत्ति हासिल करने के लिए उसकी हत्या की. पुलिस ने बताया कि प्रत्यक्षदर्शी, सीसीटीवी फुटेज और शिकायत के आधार पर जांच की गई. 

(इनपुट- कार्तिक, शिवमूर्ति)

ये भी पढ़ें

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें