scorecardresearch
 

मिर्जापुर: मंदिर में दर्शन को लेकर पुलिस और पुजारी के बीच हुई हाथापाई, Video वायरल

विंध्याचल में स्थित प्रसिद्ध मां विंध्यवासनी मंदिर पर दर्शन-पूजन को लेकर विवाद हो गया. मंदिर की सीढ़ी के पास आधा दर्जन पुलिस वालों और स्थानीय पंडा (तीर्थ पुरोहित) के बीच हाथापाई का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है वीडियो (फोटो-वीडियो स्क्रीनशॉट) सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है वीडियो (फोटो-वीडियो स्क्रीनशॉट)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • शनिवार-रविवार को बंद रहता है मंदिर
  • वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल

यूपी के विंध्याचल में स्थित प्रसिद्ध मां विंध्यवासनी मंदिर पर रविवार को दर्शन-पूजन को लेकर जम कर विवाद हुआ. एक स्थानीय पंडा (तीर्थ पुरोहित) कुछ लोगों को मंदिर परिसर में ले जाने के लिए अड़ गए. वह जबरन दर्शनार्थियों को लेकर मंदिर में जाने लगे. इस पर वहां मौजूद पुलिस वालों ने उन्हें रोका. इसी बात को लेकर विवाद इतना बढ़ा कि वहां मौजूद पुलिस वालों ने जबरन मंदिर में घुसने का प्रयास कर रहे पंडा की पिटाई कर दी.

घटना के वक्त वहां मौजूद लोगों ने पंडा और पुलिसकर्मियों के बीच हुई हाथापाई का वीडियो अपने मोबाइल कैमरे से रिकॉर्ड कर लिया, जो अब सोशल मीडिया पर वायरल हो चुका है.

बताया जा रहा है कि कोरोना गाइडलाइन के तहत शनिवार और रविवार को मंदिर के अंदर प्रवेश की मनाही होती है. हालांकि बाहर से आए श्रद्धालुओं को ध्यान में रखते हुए उन्हें सीढ़ियों तक जाने की इजाजत होती है लेकिन मंदिर के भीतर कोई श्रद्धालु नहीं जाता. यह सारा विवाद कोरोना के कारण मंदिर पर शनिवार और रविवार को जिला प्रशासन द्वारा दर्शन पूजन पर रोक के बाद हुआ है. 

UP: आजमगढ़ और मिर्जापुर में फर्जी मदरसों की जांच पूरी, SIT ने मांगी FIR दर्ज करने की अनुमति

मिर्जापुर पुलिस ने ट्वीट कर दी जानकारी
मिर्जापुर पुलिस ने इस मामले को लेकर ट्वीट भी किया है. अपने ट्वीट में पुलिस ने कहा है कि शासन द्वारा निर्धारित कोविड गाइड लाइन के अनुसार शनिवार और रविवार को मां विंध्यवासनी मंदिर बंद रहता है. मंदिर बंद रहने के बावजूद भी स्थानीय पंडा द्वारा दर्शनार्थियों को अपने साथ लेकर मंदिर में प्रवेश कर दर्शन करवाने हेतु ले जाया जा रहा था. जिसको ड्यूटी पर मौजूद पुलिस बल द्वारा रोका गया तो पुलिस से हाथापाई की गई. फलस्वरूप पुलिस द्वारा भी बलपूर्वक उन्हें रोका गया. पूरे मामले की क्षेत्राधिकारी नगर द्वारा जांच कराई जा रही है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×