scorecardresearch
 

MP: एक इंस्टाग्राम पोस्ट, मंगेतर की वायरल तस्वीर और प्रेमी ने लिख दी 5 मर्डर की स्क्रिप्ट

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के देवास (Dewas) जिले के नेमावर (Nemawar) में कुछ रो़ज़ पहले एक जघन्य हत्याकांड (Murder) को अंजाम दिया गया था. इस मामले में पुलिस (Police) ने आरोपियों को गिरफ्तार तो कर लिया. अब पुलिस की जांच आगे बढ़ रही है तो इस हत्याकांड की कई परतें खुलती जा रही हैं.

X
पुलिस ने खुदाई के बाद पांच शव बरामद किए थे. पुलिस ने खुदाई के बाद पांच शव बरामद किए थे.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • इंस्टाग्राम पोस्ट बनी हत्याकांड की वजह
  • शवों पर डाला था नमक ताकि जल्दी गले शव
  • मृतका के फोन से पुलिस को गुमराह करता रहा आरोपी

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के देवास (Dewas) जिले के नेमावर (Nemawar) में कुछ रो़ज़ पहले एक जघन्य हत्याकांड (Murder) को अंजाम दिया गया था. इस मामले में पुलिस (Police) ने आरोपियों को गिरफ्तार तो कर लिया लेकिन जैसे-जैसे पुलिस की जांच आगे बढ़ रही है तो इस हत्याकांड की कई परतें खुलती जा रही हैं. नेमावर जैसी छोटी सी जगह पर यह हत्याकांड सिर्फ एक इंस्टाग्राम पोस्ट की वजह से हुआ.  

बता दें कि मध्यप्रदेश के देवास जिले के अंतिम छोर पर स्थित नेमावर में एक खेत से पुलिस ने मंगलवार 29 जून की शाम खुदाई कर पांच शव बरामद किए थे. यह सभी लोग 13 मई से लापता थे. पुलिस लगातार सभी पांच लोगों (1 महिला, 3 युवती और 1 युवक) को लगातार तलाश कर रही थी. मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने बारीकी से जांच पड़ताल की और आखिरकार आरोपियों को हिरासत में लेकर पूछताछ की और फिर उनकी निशानदेही पर खेत में बने 10 फीट गहरे गड्ढे से पांचों शव बरामद किए थे. 

इंस्टाग्राम पोस्ट बनी हत्याकांड की वजह

पुलिस की अब तक की तफ्तीश के मुताबिक इस हत्याकांड की वजह मृतका रुपाली का एक इंस्टाग्राम (Instagram) पोस्ट. दरअसल रुपाली और प्रमुख आरोपी सुरेंद्र के बीच लंबे समय से प्रेम प्रसंग (Love Affair) चल रहा था. लेकिन जब सुरेंद्र की शादी किसी और लड़की से तय हो गई तो रुपाली उससे नाराज़ हो गई. उसने एक दिन सुरेंद्र की मंगेतर की फोटो इंस्टाग्राम पर डाल दी जो इलाके में वायरल हो गई. आरोपी सुरेन्द्र को यह पता चला तो वो गुस्से से भर गया और उसने रुपाली को रास्ते से हटाने का प्लान बनाया. सूत्रों के मुताबिक इसके लिए पहले रुपाली को सुरेंद्र ने फोन किया और उसकी हत्या कर दी. इसके बाद बहाने से रुपाली की मां ममता को बुलवाया गया और फिर उसकी भी हत्या कर दी गई. फिर रुपाली की बहनों दिव्या और पूजा तो खेत पर बुलाया गया और उनकी हत्या के बाद सबसे आखिर में पवन को मारा गया. पुलिस लंबे समय तक तो हाथ-पैर मारती रही लेकिन मुखबिर की सूचना के आधार पर जब सुरेंद्र के खेत में काम करने वाले हाली से पूछताछ हुई तो हत्याकांड का खुलासा हो गया.

इसपर भी क्लिक करें- MP: फोन करने की सजा! 2 लड़कियों को परिवारवालों ने बुरी तरह पीटा, वीडियो वायरल
 
पुलिस आरोपियों तक कैसी पहुंची

पुलिस को जब हाली मनोज ने बताया कि रुपाली और बाकि लोगों के साथ खेत पर क्या हुआ तो उसके आधार पर पुलिस ने सुरेंद्र और उसके भाई भुरु को हिरासत में लिया और उनसे सख्ती से पूछताछ की तो थोड़ी ही देर में वो टूट गए और पुलिस को सारी कहानी बता दी. उन्होंने हत्याकांड में शामिल बाकि साथियों का नाम भी बताया और बाद में आरोपियों की निशानदेही पर ही खेत में बने गड्ढे से पांचों शव बरामद किए गए. 

रुपाली का फोन बना मिस्ट्री

इस पूरे मामले में सबसे बड़ी मिस्ट्री बना रुपाली का मोबाइल फोन. सुरेंद्र ने बताया कि किसी को शक ना हो इसके लिए उसने रुपाली को मोबाइल अपने दोस्त राकेश को दे दिया था जो अलग-अलग लोकेशन पर जाकर रुपाली के मोबाइल से पोस्ट डालते रहता था. यही नहीं, 27-28 मई को पूजा की मां नीतू के फोन पर राकेश ने मैसेज किया किया कि मैनें शादी कर ली है और जल्द ही पूजा की भी शादी करवा दूंगी. हम लोग सब सुरक्षित और खुश हैं हमारी चिंता मत करना. इसके बाद नीतू नेमावर पहुंची और रुपाली के खिलाफ अपनी बेटी पूजा और बेटे पवन के अपहरण की शिकायत पुलिस को दी. इससे पुलिस का पूरा शक रुपाली पर चला गया कि सबके गायब होने के पीछे रुपाली का ही हाथ है. लेकिन पुलिस को क्या पता था कि रुपाली के मोबाइल से रुपाली बनकर सुरेंद्र का दोस्त राकेश ही मैसेज कर रहा था ताकि सब गुमराह हो जाए. 

शवों पर डाला था नमक ताकि जल्दी गले शव

आरोपी इतने शातिर थे कि उन्होंने सभी के शवों को गड्ढे मे फेंकने के बाद उनके उपर नमक डाल दिया था ताकि शव जल्दी गल जाएं और भविष्य में यदि कोई कोशिश भी करें तो शवों की शिनाख्त ना हो सके.

(शकील खान के इनपुट्स के साथ)

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें