scorecardresearch
 

Sheohar: तिहाड़ जेल में रची गई थी बिहार के इस प्रत्याशी को मारने की साजिश

शिवहर जिले में चुनाव प्रचार के दौरान जनता दल राष्ट्रवादी पार्टी के प्रत्याशी नारायण सिंह की हत्या कर दी गई थी. इस मामले का खुलासा शिवहर पुलिस ने 48 घंटों के भीतर कर दिया है. बताया जा रहा है कि हत्या की साजिश दिल्ली के तिहाड़ जेल से रची गई थी.

 नारायण सिंह की हत्या का आरोपी गिरफ्तार (फोटो आजतक) नारायण सिंह की हत्या का आरोपी गिरफ्तार (फोटो आजतक)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • नारायण सिंह की हत्या का आरोपी गिरफ्तार
  • पुलिस ने 48 घंटे के अंदर आरोपी को पकड़ा
  • दिल्ली के तिहाड़ जेल में रची गई थी साजिश

बिहार के शिवहर जिले में चुनाव प्रचार के दौरान जनता दल राष्ट्रवादी पार्टी के प्रत्याशी नारायण सिंह की हत्या कर दी गई थी. इस मामले का खुलासा शिवहर पुलिस ने 48 घंटों के भीतर कर दिया है. बताया जा रहा है कि हत्या की साजिश दिल्ली के तिहाड़ जेल से रची गई थी. जिसे सरगना विकास कालिया ने प्लान किया था. बता दें कि इस हत्याकांड में तीन लोगों की मौत हो गई थी. जिसमें प्रत्याशी, उनका समर्थक और एक अपराधी भी शामिल था. वहीं अन्य दो लोग घायल हैं, जिनका इलाज चल रहा है.

शिवहर एसपी ने बताया कि प्रत्याशी श्रीनारायण सिंह की हत्या की साजिश दिल्ली के तिहाड़ जेल से रची गई थी और इसको विकास कालिया ने प्लान किया था. विकास कालिया मशहूर सरगना संतोष झा का करीबी है जो उसकी हत्या के बाद खुद सरगना बन बैठा है. मृत प्रत्याशी को वह उनकी हत्या का जिम्मेदार मानता था. जिसको लेकर उसने हत्या की साजिश रच डाली. वह वारदात में शामिल अपराधियों के संपर्क में वॉट्सएप कॉलिंग के माध्यम से था.

तिहाड़ जेल में रची गई थी हत्या की साजिश 

बता दें कि वारदात के समय दो अपराधियों को भीड़ ने पकड़ लिया था और उनकी काफी पिटाई भी की थी. इलाज के दौरान उनमें से एक अपराधी की मौत हो गई थी. मृत अपराधी गौरीशंकर महाराज उर्फ किशन झा सीतामढ़ी के रून्नी सैदपुर थाना क्षेत्र के मानिक चौक का निवासी था. वहीं दूसरा अपराधी सीतामढ़ी निवासी नीरज पाठक उर्फ चायनीज ने पूरे मामले का खुलासा कर दिया. जिसके बाद पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है. 

पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल पिस्टल बरामद की (फोटो आजतक)
पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल पिस्टल बरामद की (फोटो आजतक)

देखें: आजतक LIVE TV

शिवहर एसपी के मुताबिक महज वर्चस्व की लड़ाई में वारदात को अंजाम दिया गया है. वहीं एसपी ने बताया कि नारायण सिंह का भी लंबा आपराधिक इतिहास रहा है और वो 30 गंभीर मामलों के अभियुक्त थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें