scorecardresearch
 

कर्नाटक: कॉलेज स्टूडेंट्स की पब पार्टी रोकने वाले बजरंगदल के 7 कार्यकर्ताओं पर एक्शन, पुलिस ने दी हिदायत

मंगलुरु पुलिस कमिश्नर एन शशि कुमार ने बताया सोमवार रात करीब नौ बजे बजरंगदल के कार्यकर्ता पब आए. उन्होंने वहां मौजूद बाउंसरों से यह पता करने के लिए कहा कि क्या पब में शराब पीने वाले लड़के नाबालिग हैं. बाउंसर ने मैनेजर से बात की. इसके बाद कुछ छात्रों को पब से बाहर भेज दिया गया.

X
पब पार्टी रुकवाने के मामले में पुलिस ने की कार्रवाई (फोटो-India Today)
पब पार्टी रुकवाने के मामले में पुलिस ने की कार्रवाई (फोटो-India Today)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कार्यकर्ताओं ने नाबालिगों को शराब परोसने का लगाया था आरोप
  • पुलिस ने पब के अंदर किसी भी तरह के हमले से इनकार किया

कर्नाटक के मंगलुरु में सोमवार शाम को बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने एक पब में घुसकर कॉलेज छात्रों की फेयरवेल पार्टी को जबरन रोक दिया था. पुलिस ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए मंगलवार को बजरंग दल के सात सदस्यों के खिलाफ सीआरपीसी की धारा 107 और 110 के तहत केस दर्ज कर लिया है. हालांकि बाद में उन्होंने पुलिस को लिखित आश्वासन दिया कि वे इस तरह की हरकतों में दोबारा शामिल नहीं होंगे.

मंगलुरु पुलिस ने कहा कि बालमट्टा में ज्योति सर्कल के पास वुडसाइड रीसायकल लॉन्ग पब में पार्टी रोकने की एक वजह हाल में कॉलेज के छात्रों से जुड़ा एक लिप-लॉक वीडियो के लीक होने हो सकता है. पुलिस ने बताया कि वीडियो की जांच में पता चला था कि छात्र एक निजी अपार्टमेंट में ट्रुथ एंड डेयर खेल रहे थे. उनका यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद विवाद खड़ा हो गया था. हालांकि, वायरल वीडियो और पब में पार्टी करने वाले छात्रों के बीच कोई संबंध नहीं है. 

किसी ने पब पर हमला नहीं किया: बीजेपी विधायक

मेंगलुरु उत्तर के विधायक भरत शेट्टी ने कहा कि हिंदू संगठन के कार्यकर्ताओं ने बालमठ में पब पर किसी भी तरह से हमला नहीं किया है. उन्होंने पब प्रबंधक और बाउंसर से केवल यह सवाल किया है कि क्या वे नाबालिग छात्रों को शराब परोस रहे हैं. मैंने पुलिस कमिश्नर के साथ इस पर चर्चा की है. पब स्टाफ घटना की जांच कर रहा है.

जल्द ही सच्चाई सामने आ जाएगी. पब या बार में नाबालिगों को शराब, सिगरेट और अन्य नशीले पदार्थों की आपूर्ति करना कानून के तहत अपराध है. ऐसी घटनाएं तब होती हैं जब बार और पब इसका उल्लंघन करते हैं. 

पब में थे 30 लड़के-लड़कियां

मंगलुरु के पुलिस आयुक्त (सीपी) शशि कुमार ने बताया कि जब पुलिस को बजरंग दल के कार्यकर्ताओं द्वारा जबरन पब बंद कराने की सूचना मिली तो पुलिस जब मौके पर पहुंची तब पब बंद हो रहा था. करीब 20 लड़के और 10 लड़कियां पब से बाहर निकल रहे थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें