scorecardresearch
 

ग्रेटर नोएडाः नकली एंटी बॉयटिक दवाइयों को पैक करने वाली फैक्ट्री का भंडाफोड़

मुंबई पुलिस से मिली सूचना के बाद औषधि विभाग की ओर से नकली दवा पैक करने वाली फैक्ट्री में छापेमारी की गई. छापेमारी के दौरान पुलिस ने 50 लाख रुपये की नकली दवाइयां भी बरामद कीं.

फैक्ट्री में छापेमारी के दौरान चीजों पर नजर बनाते अधिकारी (फाइल) फैक्ट्री में छापेमारी के दौरान चीजों पर नजर बनाते अधिकारी (फाइल)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • छापेमारी में भारी मात्रा में अजीथ्रोमाइसीन जैसी दवा भी बरामद
  • मुंबई पुलिस से सूचना मिलने पर औषधि विभाग ने की छापेमारी
  • भारी मात्रा में मिली दवाइयां, अनुमानित कीमत 50 लाख रुपये

नोएडा पुलिस और औषधि विभाग ने मिलकर नकली दवाइयों को पैक करने वाली फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया है यह फैक्ट्री ग्रेटर नोएडा के ईकोटेक 3 इलाके में चल रही थी. पुलिस अफसरों की मानें तो इस गिरोह के तार कुछ दिन पहले मेरठ के खरखौदा के औद्योगिक क्षेत्र में पकड़ी गई फैक्ट्री के साथ जुड़े हुए हैं.

हैरानी की बात यह है कि इस फैक्ट्री में पैक की जाने वाली दवाइयां पूरे देश में सप्लाई की जा रही थीं. फैक्ट्री में भारी मात्रा में वो दवा भी मिली हैं जो पूरे देश में करीब हर कोरोना मरीज को दी जा रही थी. इस नकली दवाओं में अज़ीथ्रोमैसीन (Azithromycin) दवा भी शामिल है जो हर डॉक्टर हर कोरोना वायरस मरीज के लिए लिख रहा था.

दरअसल, मंगलवार 8 जून को मुंबई पुलिस से मिली सूचना पर औषधि विभाग मेरठ मंडल के आयुक्त वीरेंद्र कुमार के नेतृत्व में हापुड़, गाजियाबाद, मेरठ और नोएडा के औषधि निरीक्षकों के साथ नकली दवा पैक करने वाली फैक्ट्री में छापेमारी की गई. छापेमारी के दौरान पुलिस ने 50 लाख रुपये की नकली दवाइयां भी बरामद की. इन दवा को बनाने के लिए और पैकेजिंग के लिए पूरी फैक्ट्री लगाई गई थी तथा मशीनों का इस्तेमाल किया जा रहा था.

ये छापेमारी संयुक्त रूप से ओद्योगिक क्षेत्र प्लॉट नंबर 241 उद्योग केंद्र प्रथम में बनी फैक्ट्री में दबिश दी गई. नायाब तहसीलदार सचिन पंवार की मौजूदगी में फैक्ट्री के प्रथम तल का ताला तोड़कर चैक करने पर फैक्ट्री के प्रथम तल पर पैकिंग मशीन, पैकिंग मेटरियल और बड़ी मात्रा में Azithromycin, Favipiravir  की टैबलेट पैक तथा लूज बरामद हुई है, जिनकी अनुमानित कीमत लगभग 50 लाख रुपये है. हालांकि इस मामले में अभी तक कोई भी गिरफ्तारी नहीं हो सकी है.

नोएडाः बालू खनन माफिया से जुड़े 6 गिरफ्तार
गौतम बुद्ध नगर (नोएडा) जिला अवैध खनन को लेकर अक्सर सुर्खियों में रहा है. कई बार अवैध खनन करने वाले माफियाओं ने पुलिस पर फायरिंग भी की है. अब नोएडा पुलिस कमिश्नरेट बनने के बाद लगातार खनन माफियाओं पर नकेल कसने का काम किया जा रहा है जिसकी ताजा कड़ी में ग्रेटर नोएडा की बादलपुर पुलिस ने अवैध खनन करने वाले बड़े गिरोह का भंडाफोड़ किया है.

इसे भी क्लिक करें ---  CM योगी ने वाराणसी के एक CHC को लिया गोद, अस्पताल के कायाकल्प में जुटे अफसर 

पुलिस ने इस मामले में अवैध खनन करने वाले 6 लोगों को गिरफ्तार किया है यह सभी लोग अवैध बालू खनन का काम कर रहे थे.

पुलिस टीम को खबर मिली थी कि कुछ लोग जेसीबी मशीन, ट्रैक्टर-ट्रॉली के साथ बड़े पैमाने पर अवैध बालू खनन का काम कर रहे हैं. जिसके बाद पुलिस टीम ने राजापुर गांव के पास से हरीश, अमित नागर, प्रदीप, ओमवीर, सुनील और फुरकान को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने इस गैंग के पास से चार ट्रैक्टर ट्रॉली और एक जेसीबी मशीन भी बरामद की है. पूछताछ के दौरान पुलिस को पता चला कि ये लोग कई दिनों से अवैध रूप से बालू का खनन कर रहे थे. खनन में इस्तेमाल होने वाले उपकरणों और साधनों को जब्त कर लिया गया है. आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें