scorecardresearch
 

गुरुग्राम: पुलिस और बदमाशों के बीच फायरिंग, मुठभेड़ में गैंग्स्टर ढेर

गोली लगने से 50 हज़ार के इनामी रोहित उर्फ लंबू की मौत हो गई जबकि एक अन्‍य कुख्यात बदमाश सतेंद्र पाठक को गोली लगने के बाद अस्पताल में भर्ती करवाया गया. मृतक रोहित, कांग्रेसी नेता विकास चौधरी हत्याकांड के अलावा गुरुग्राम में भी 5 संगीन मामलो में वांछित था जबकि गिरफ्तार गैंग्स्टर सतेंद्र पाठक का संबंध दिल्ली इनकाउंटर में मारे गए राजेश भारती और संजीत बिरदोह गैंग के साथ था.

Gurugram Encounter Gurugram Encounter
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बदमाश बड़ी वारदात को अंजाम देने के इरादे से गुरुग्राम आ रहे थे
  • दोनों और से फायरिंग के बाद बदमाशों को गोली लग गई

मंगलवार 10 नवंबर को गुरुग्राम में पुलिस और बदमाशों के बीच हुई फायरिंग में एक का इनामी गैंग्स्टर ढेर हो गया. गोली लगने से 50 हज़ार के इनामी रोहित उर्फ लंबू की मौत हो गई जबकि एक अन्‍य कुख्यात बदमाश सतेंद्र पाठक को गोली लगने के बाद अस्पताल में भर्ती करवाया गया.

मृतक रोहित, कांग्रेसी नेता विकास चौधरी हत्या कांड के अलावा गुरुग्राम में भी 5 संगीन मामलो में वांछित था जबकि गिरफ्तार गैंग्स्टर सतेंद्र पाठक का संबंध दिल्ली इनकाउंटर में मारे गए राजेश भारती और संजीत बिरदोह गैंग के साथ था. मामला खेड़की दौला थाना क्षेत्र का है जहां दोनों कुख्यात बदमाश किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने के इरादे से गाड़ी नंबर HR-20 20 TR-2765A से तावडू से गुरुग्राम की ओर आ रहे थे और एसीपी क्राइम, गुरुग्राम पुलिस के साथ उनकी मुठभेड़ हो गई.

देखें: आजतक LIVE TV 

एसीपी क्राइम ने बताया कि पुलिस ने इस मुठभेड़ मे 50 हज़ार के इनामी 23 वर्षीय रोहित उर्फ लंबू को मार गिराया गया है, जो कि फरीदाबाद में हुए विकास चौधरी हत्या मामले में फरार चल रहा था, गुरुग्राम में भी कई गाड़ियों की लूट, हत्या, हत्या के प्रयास जैसी संगीन वारदातों में फरार चल रहा था और उस पर फरीदाबाद पुलिस और गुरुग्राम पुलिस ने 25-25 हज़ार का इनाम घोषित किया हुआ था. यह भी बताया गया है कि दोनों बदमाशों का संबंध जेल में बंद गैंग्स्टर कौशल के साथ था, बहरहाल पुलिस मामले की तफ्तीश में जुटी है.

मुठभेड़ साइबर सिटी के बारगुर्जर इलाके में हुई. दरअसल, क्राइम यूनिट को सूचना मिली थी की जेल में बंद कुख्यात गैंग्स्टर कौशल के शार्प शूटर तावडू के रास्ते गुरुग्राम में दाखिल होकर किसी बड़ी वारदात को अंजाम दे सकते हैं. इसी सूचना पर क्राइम ब्रांच ने इस इलाके में घेराबंदी कर नाका लगाया था. सुबह के 3 बजे सफेद कलर की स्विफ्ट गाड़ी तावडू से गुरुग्राम की और तेज़ रफ्तार से नाके की तरफ आ रही थी. पुलिस ने बदमाशों को सरेंडर करने के लिए कहा लेकिन गाड़ी सवार रोहित और सतेंद्र पाठक ने पुलिस पार्टी पर फायरिंग शुरू कर दी.

एसीपी क्राइम की मानें तो दोनों ओर से दर्जन भर राउंड फायरिंग के बाद दोनों बदमाशों को गोली लग गई. उन्‍हें गंभीर हालात में अस्पताल में भर्ती करवाया गया जहां इलाज के दौरान रोहित की मौत हो गयी जबकि सतेंद्र पाठक को सरकारी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. पुलिस अब सतेंद्र पाठक की क्राइम कुंडली को खंगालने में जुटी है.

ये भी पढ़ें

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें