scorecardresearch
 

दिल्ली में कत्ल की सनसनीखेज वारदात, मीट व्यापारी को 23 गोली मारकर फरार हुए कातिल

हत्या की ये घटना साउथ दिल्ली के दक्षिणपुरी इलाके की है. मृतक कारोबारी की पहचान दिलीप उर्फ कुणाल के रूप में हुई है. वह दिल्ली के मदनगीर इलाके का रहने वाला था. दिलीप दक्षिणपुरी इलाके में मीट की दुकान चलाता था.

X
पुलिस दिलीप की हत्या के पीछे रंजिश को वजह मानकर चल रही है
पुलिस दिलीप की हत्या के पीछे रंजिश को वजह मानकर चल रही है
स्टोरी हाइलाइट्स
  • अपनी दुकान के पास खड़ा था कारोबारी दिलीप
  • बाइक सवार बदमाशों ने मारी 23 गोलियां
  • पुरानी दुश्मनी के चलते हत्या की वारदात

राजधानी दिल्ली में एक मीट कारोबारी की गोली मारकर हत्या कर दी गई. हमलावर इतने बैखौफ और दबंग थे कि उन्होंने मौका-ए-वारदात पर रुककर कारोबारी को एक के बाद एक 23 गोलियां मारी. आरोपियों ने वारदात को देर रात उस वक्त अंजाम दिया, जब वो कारोबारी अपनी दुकान के पास खड़ा था. इस वारदात से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई.

हत्या की ये घटना साउथ दिल्ली के दक्षिणपुरी इलाके की है. मृतक कारोबारी की पहचान दिलीप उर्फ कुणाल के रूप में हुई है. वह दिल्ली के मदनगीर इलाके का रहने वाला था. दिलीप दक्षिणपुरी इलाके में मीट की दुकान चलाता था. मंगलवार की देर रात करीब 11:20 बजे दिलीप अपनी दुकान के पास ही खड़ा था.

उसी दौरान बाइक पर सवार होकर 2 बदमाश वहां पहुंचे और उन्होंने दिलीप उर्फ कुणाल पर दनादन फायरिंग शुरू कर दी. हमलावर एक के बाद एक तब तक फायरिंग करते रहे जब तक दिलीप की मौत नहीं हो गई. बदमाशों ने दिलीप को 23 गोलियां मारी. हमले के बाद दोनों बदमाश मौके से फरार हो गए.

पूरे इलाके में गोलियों की आवाज़ से दहशत फैल गई. सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और दिलीप के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. पुलिस के मुताबिक दिलीप उर्फ कुणाल के खिलाफ कई आपराधिक मामले दर्ज थे. इसलिए पुलिस इसे आपसी रंजिश की का मामला मानकर चल रही है.

दिलीप उर्फ कुणाल के परिवार वालों का आरोप है कि इस हत्या में रवि गंगवाल गैंग का हाथ है. कुणाल के भाई सनी ने बताया कि रवि गंगवाल गैंग से उनकी दुश्मनी चल रही है. उसने दिलीप को पहले भी जान से मारने की धमकी दी थी. कुछ महीनों पहले व्हाट्सएप कॉल के दौरान उन दोनों के बीच बहस भी हुई थी.

दिल्ली पुलिस को जांच में पता चला है कि कुणाल पर पहले से ही कई आपराधिक मामले दर्ज हैं. फिलहाल पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी हुई है. अपराधियों की धरपकड़ के लिए पुलिस की कई टीम बनाकर अलग-अलग जगहों पर दबिश दी जा रही है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें