scorecardresearch
 

एक करोड़ रिश्वत मामले में रेलवे अफसर पर CBI का शिकंजा, देहरादून के पुश्तैनी घर पर छापेमारी

सीबीआई रेलवे अधिकारी महेंद्र सिंह चौहान के देहरादून स्थित घर और चकराता के पुश्तैनी घर पर जरूरी दस्तावेज़ खंगाल रही है. सीबीआई टीम देर रात दिल्ली से देहरादून पहुंची है.

प्रतीकात्मक फ़ोटो प्रतीकात्मक फ़ोटो
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सीनियर रेलवे अधिकारी के घर छापा
  • एक करोड़ रिश्वत मामले में CBI का शिकंजा
  • देहरादून के पुश्तैनी घर पर भी छापेमारी

सीबीआई ने एक सीनियर रेलवे अधिकारी महेंद्र सिंह चौहान के घर छापा मारा. चौहान पर नॉर्दन ईस्टर्न फ्रंटियर रेलवेज में प्राइवेट कंपनी को काम दिलाने के एवज में एक करोड़ रुपये की रिश्वत लेने का आरोप है. सीबीआई रेलवे अधिकारी के देहरादून स्थित आशीर्वाद एंक्लेव घर और चकराता के पुश्तैनी घर पर जरूरी दस्तावेज़ खंगाल रही है. सीबीआई टीम देर रात दिल्ली से देहरादून पहुंची है. चौहान 1985 बैच के रेलवे अधिकारी हैं.

बता दें कि इससे पहले सीबीआई ने रेलवे अधिकारी महेंद्र के साथ दो अन्य लोगों को भी एक करोड़ रिश्वत मामले में पकड़ा था. बताया जा रहा है कि इनके पास से एक करोड़ रुपये बरामद किए गए हैं. सीबीआई सूत्रों की मानें तो रेलवे में हाल के दिनों में इतनी बड़ी मात्रा में रिश्तव लेते हुए रंगे हाथ पकड़े जाने का यह बड़ा मामला है. CBI ने पांच राज्यों में 20 से ज्यादा जगहों पर छापेमारी की है. 

जानकारी के मुताबिक, रेलवे अधिकारी महेंद्र सिंह चौहान के साथ जिन दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है वो उसी के नाम पर रिश्वत ले रहे थे. सीबीआई ने यह छापा खुफिया इनपुट के आधार मारा है. सीबीआई सूत्रों के मुताबिक, उन्हें जानकारी मिली थी कि महेंद्र नॉर्दन रेलवे में काम दिलाने के नाम पर एक कंपनी से एक करोड़ रुपये की रिश्वत मांग रहा है. 

देखें: आजतक LIVE TV

इसके बाद उसे पकड़ने के लिए जाल बिछाया गया, जिसमें वो फंस गया. बताया जा रहा है कि महेंद्र के दो कथित सहयोगी जब रिश्वत ले रहे थे, उसी समय सीबीआई के अफसर मौके पर पहुंच गए और उन्हें रंगे हाथ पकड़ लिया. सीबीआई टीम को शक है कि महेंद्र ने पहले भी इसी तरह से रिश्वत ली होगी. हालांकि, अभी जांच जारी है. सीबीआई टीम रात में महेंद्र के देहरादून वाले घर पर पहुंची है. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें