scorecardresearch
 

बंगाल हिंसा पर बीजेपी सांसद बोले- 'याद रखें तृणमूल सांसद, मुख्यमंत्री.. दिल्ली भी आना है'

प्रवेश सिंह वर्मा ने कहा है कि तृणमूल कांग्रेस के सांसद याद रखें, मुख्यमंत्री और वहां के  विधायकों को भी दिल्ली आना है. इसे चेतावनी के रूप में लें.

बंगाल में मतगणना के बाद हिंसा (फाइल फोटोः ट्विटर) बंगाल में मतगणना के बाद हिंसा (फाइल फोटोः ट्विटर)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • दिल्ली के सांसद प्रवेश सिंह वर्मा ने दी चेतावनी
  • कहा- चुनाव में जीत-हार होती है, हिंसा नहीं

बंगाल में मतगणना के बाद कई जगह से हिंसा की खबरें आईं. कहीं भारतीय जनता पार्टी के दफ्तर में आगजनी का मामला सामने आया तो कहीं तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों पर विपक्षी पार्टी के कार्यकर्ता की हत्या के आरोप लगे. मतगणना के बाद शुरू हुई राजनीतिक हिंसा का मामला अब तूल पकड़ने लगा है. बीजेपी सांसद प्रवेश सिंह वर्मा ने टीएमसी पर हमला बोला है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक प्रवेश सिंह वर्मा ने चेतावनी देते हुए कहा है कि तृणमूल कांग्रेस के सांसद याद रखें, मुख्यमंत्री और वहां के विधायकों को भी दिल्ली आना है. इसे चेतावनी के रूप में लें. दिल्ली के पूर्व मुख्यमंत्री साहिब सिंह वर्मा के बेटे ने कहा कि एक चुनाव में जीत-हार होती है लेकिन हत्या नहीं. उन्होंने कहा कि टीएमसी के गुंडे बंगाल में जीत के बाद से ही बीजेपी कार्यकर्ताओं को निशाना बना रहे हैं.

प्रवेश सिंह वर्मा ने कहा कि टीएमसी के गुंडे चुनाव में जीत के बाद से ही हमारे कार्यकर्ताओं की हत्या कर रहे हैं. उनके वाहन तोड़ रहे हैं. बीजेपी कार्यकर्ताओं के घरों में आग लगा रहे हैं. इससे पहले बीजेपी के बंगाल प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने भी आरोप लगाया था कि बंगाल में मतगणना के बाद उनके (बीजेपी) कार्यकर्ताओं के खिलाफ टीएमसी की ओर से प्रायोजित हिंसा हो रही है.

कैलाश विजयवर्गीय इस समय बंगाल में ही हैं. उन्होंने कहा है कि बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ एकजुटता प्रदर्शित करने के लिए 4 मई को बंगाल जाएंगे. विजयवर्गीय ने दावा किया कि चुनाव बाद हिंसा में बीजेपी के चार कार्यकर्ताओं की हत्या हुई है जबकि 4000 से अधिक घरों को निशाना बनाया गया, तोड़फोड़ की गई.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें