scorecardresearch
 

आगरा में पूर्व फौजी की पत्नी को जिंदा जलाया, इलाज के दौरान मौत

आगरा की पुष्पांजलि इको सिटी कॉलोनी में पूर्व फौजी अनिल कुमार की पत्नी घर के सामने खड़ी थी. तभी कुछ लोग आए और उनके ऊपर मिट्टी का तेल डालकर आग लगा दी और भाग निकले. महिला की चीख-पुकार सुनकर उनके परिवारवाले और बच्चे बाहर पहुंचे. पड़ोसियों की मदद से अनिल कुमार ने महिला को दिल्ली के एक अस्पताल में भर्ती कराया. लेकिन इलाज के दौरान महिला की मौत हो गई. 

प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मामूली झगड़े का खूनी अंजाम
  • महिला को जिंदा जलाया गया
  • घटना के बाद आरोपी फरार

आगरा के थाना ताजगंज इलाके में पूर्व फौजी की पत्नी को जिंदा जला दिया गया. यहां पर झगड़े की शुरुआत बच्चों की लड़ाई से हुई थी, लेकिन ये इतना बढ़ा कि एक पक्ष के दबंगों ने दूसरे पक्ष की महिला को जिंदा जला दिया. इलाज के दौरान महिला की मौत हो गई. घटना रविवार शाम की है. 

आगरा की पुष्पांजलि इको सिटी कॉलोनी में पूर्व फौजी अनिल कुमार की पत्नी घर के सामने खड़ी थी. तभी कुछ लोग आए और उनके ऊपर मिट्टी का तेल डालकर आग लगा दी और भाग निकले. महिला की चीख-पुकार सुनकर उनके परिवारवाले और बच्चे बाहर पहुंचे. पड़ोसियों की मदद से अनिल कुमार ने महिला को दिल्ली के एक अस्पताल में भर्ती कराया. लेकिन इलाज के दौरान महिला की मौत हो गई. 

ये था विवाद

प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि चार पांच दिन पहले पीड़ित अनिल कुमार और कॉलोनी में ही रहने वाले भारत खरे के बेटों के बीच बातों बातों में विवाद हो गया था. विवाद के बाद भरत खरे ने पूर्व फौजी अनिल कुमार के खिलाफ एससी एसटी एक्ट की धाराओं में मुकदमा दर्ज करवा दिया था. 

इस मामले में समझौते के लिए भरत खरे के घर मे पंचायत रखी गई थी. पंचायत में भरत खरे के एक दर्जन से ज्यादा रिश्तेदार मौजूद थे. समझौता करने के एवज में भरत खरे ने अनिल कुमार से 10 लाख रुपये मांगे. पूर्व फौजी अनिल कुमार ने इतनी बड़ी मांग पर असमर्थता जताई. इस वजह से पंचायत में समझौता नहीं हो सका. 

इस बीच आरोप है कि भरत खरे और उनके घर आए उनके समर्थकों, रिश्तेदारों ने इस वारदात को अंजाम दिया है. वारदात के बाद भरत खरे अपने परिवार के साथ कोठी छोड़कर फरार है. मामले की जानकारी होने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने कॉलोनी में रहने वाले परिवारों के बयान दर्ज किए हैं. सीओ सदर का कहना है कि हर पहलू से मामले की जांच की जा रही है. तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें