scorecardresearch
 

उधार लिए पैसे नहीं चुका पाया, बॉस ने पत्नी और बच्चे का किया अपहरण और फिर...

आंध्र प्रदेश में एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. एक कर्मचारी ने उधार लिए हुए पैसे नहीं चुकाए, तो उसके मैनेजर ने कर्मचारी की पत्नी और उसके बच्चे का अपहरण कर लिया. पुलिस ने महिला और बच्चे को छुड़ा लिया है. इसके साथ ही आरोपी मैनेजर के खिलाफ एससी-एसटी एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया है.

X
पैसे नहीं चुकाने पर पत्नी और बच्चे को किया अगवा
पैसे नहीं चुकाने पर पत्नी और बच्चे को किया अगवा

आंध्र प्रदेश के वाईएसआर जिले में एक शर्मनाक घटना सामने आई है. मैदुकुरु क्षेत्र में कर्ज नहीं चुकाने पर कुछ लोगों ने कर्ज लेने वाले शख्स की पत्नी और उसके एक महीने के बच्चे का अपहरण कर लिया.

पीड़िता के मुताबिक, उसका पति ग्यारह साल से नर्सरी मैनेजर सुधाकर रेड्डी के लिए काम कर रहा है. उसके पति ने कुछ समय पहले सुधाकर रेड्डी से 1 लाख रुपए उधार लिए थे. 

महिला के मुताबिक, सुधाकर रेड्डी उसे 1 लाख रुपए के बदले 2 लाख रुपए वापस करने के लिए मजबूर करता था. पीड़िता ने कहा, छह दिन पहले पति की गैरमौजूदगी में सुधाकर रेड्डी आया और उसे अपने साथ ले गया. उसने एक महीने के बच्चे को भी नहीं छोड़ा. 

पीड़िता ने कहा, "मेरा पति एक दिन पहले मैनेजर के पास पहुंचा और विनती की कि वह नर्सरी में रहकर काम करेगा और अपने बच्चे और पत्नी को घर भेज देगा. फिर भी सुधाकर ने पीड़िता को नहीं छोड़ा."

पुलिस ने कराया रिहा, शुरू की जांच  

घटना की सूचना मिलने पर पुलिस ने महिला और उसके बच्चे को नर्सरी से छुड़ाकर पति को सौंप दिया. इसके साथ ही नर्सरी के मैनेजर को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है.

एसपी  केएन अंबुराजन ने बताया कि आरोपी के खिलाफ एससी/एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है. मामले की जांच डीएसपी कर रहे हैं. अधिकारी ने कहा, पीड़िता के पति ने 2 लाख रुपए लिए थे और भुगतान करने के लिए कहा तो वह अनसुना कर रहा था.  

उसकी पत्नी एक मजदूर के रूप में काम कर रही थी और पैसे उधार देने वाले व्यक्ति ने उसे 2 लाख वापस करने या साइट पर अपना काम खत्म करने के लिए कहा था. मामला दर्ज कर लिया गया है और मामले की जांच की जा रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें