scorecardresearch
 

कर्नाटक: सड़क किनारे बोरों में 38 बंदरों के शव देख ग्रामीणों के उड़े होश, जहर देकर पीटा गया

कुछ ग्रामीणों का कहना है कि बंदरों को बोरियों में भरकर उन पर हमला किया गया होगा. उन्होंने बताया कि बोरी खोलने पर जो कुछ बंदर जीवित थे वे बुरी तरह हांफ रहे थे और हिलने-डुलने में असमर्थ थे.

सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सड़क किनारे बोरे में मिले बंदरों के शव
  • कुछ जीवित बंदरों को गांववालों ने पिलाया पानी, बची जान

कर्नाटक के हासन जिले में गुरुवार अलसुबह मरे हुए बंदर मिलने से अचानक हड़कंप मच गया. जानकारी के मुताबिक, बंदरों को जहर देकर पीटा गया था. अधिकारियों के मुताबिक हासन जिले के बेलूर तालुक के चौदानहल्ली गांव में गुरुवार तड़के करीब 38 मृत बंदर मिले, वहीं अन्य 20 मौके पर जीवित थे. ग्रामीणों ने तुरंत उन्हें पानी मुहैया कराया और वे कुछ देर बाद वहां से चले गए.

बताया जा रहा है कि बंदरों को बोरियों में भरकर चौदानहल्ली के पास सड़क किनारे फेंक दिया गया था. ऐसे में सड़क किनारे पड़े बोरों में मौजूद सामान को देखने की उत्सुकता में जब ग्रामीणों ने उसे खोला तो उनके होश उड़ गए.

कुछ ग्रामीणों का कहना है कि बंदरों को बोरियों में भरकर उन पर हमला किया गया होगा. उन्होंने बताया कि बोरी खोलने पर जो कुछ बंदर जीवित थे वे बुरी तरह हांफ रहे थे और हिलने-डुलने में असमर्थ थे.

वन विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों ने मौके का दौरा कर जांच शुरू कर दी है. उन्होंने मरे हुए बंदरों को दफनाने के लिए आवश्यक कदम उठाए हैं. प्रारंभिक रिपोर्टों से पता चलता है कि बंदरों को जहर दिया गया था. स्थानीय लोगों का आरोप है कि बंदरों को बाहर से लाया गया था और जब बदमाश उन्हें दूसरी जगह नहीं ले जा सके तो उन्हें मार डाला.


(नोलन पिंटो की रिपोर्ट)

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें