scorecardresearch
 
क्राइम न्यूज़

Patna: पद्मश्री फणीश्वर नाथ रेणु के घर चोरी, 'मैला आंचल' समेत कई रचनाओं की ओरिजनल कॉपी ले उड़े चोर

phanishwar nath renu literary creations and heritage stealing
  • 1/5

बिहार में विधानसभा चुनाव का शोर चल रहा है, तो वहीं चोर बेखौफ होकर चोरी की वारदातों को अंजाम दे रहे हैं. पटना के थाना कदमकुआं क्षेत्र के राजेन्द्र नगर स्थित प्रसिद्ध लेखक, साहित्यकार और पद्मश्री से सम्मानित स्व. फणीश्वर नाथ रेणु के घर को चोरों ने निशाना बनाया. हैरानी की बात ये है कि चोरों ने कीमती सामान नहीं छुआ, लेकिन घर में रखी फणीश्वर नाथ रेणु की कई महत्वपूर्ण कृतियों की ओरिजनल कॉपी को चुरा ले गए. (रिपोर्टः राजेश कुमार झा)

phanishwar nath renu literary creations and heritage stealing
  • 2/5

थाना कदमकुआं के राजेंद्रनगर रोड नंबर 16 स्थित ब्लॉक 2 में प्रसिद्ध साहित्यकार फणीश्वर नाथ रेणु के बंद फ्लैट बी 30 के चोरों ने ताले तोड़ दिए. घटना मंगलवार रात की बताई गई है. चोरों ने यहां से साहित्यिक विरासत व पांडुलिपियों को चुराया. 

phanishwar nath renu literary creations and heritage stealing
  • 3/5

चोरों ने रेणु के हस्ताक्षर वाली परती परिकथा, मैला आंचल, पलटू बाबू रोड, ठुमरी, अधूरा हस्तलिखित कागज की नाव, दर्जनों दुर्लभ चिट्ठियां, अन्य राइटर्स की दर्जनों पुस्तकों को चुरा लिया. इसके अलावा उनके बेटे पूर्व विधायक पदम पराग रेणु की महत्वपूर्ण फाइलें, फारबिसगंज जिला अररिया व विस से जुड़ी कई अहम फाइलें भी ले गए.

phanishwar nath renu literary creations and heritage stealing
  • 4/5

हैरानी की बात तो ये है कि चोरों ने फ्लैट में रखे फ्रिज, टीवी समेत अन्य महंगे सामानों को छुआ तक नहीं. बताया गया है कि सरकार द्वारा पद्मश्री फणीश्वर नाथ रेणु की साहित्यिक विरासतों को उनकी स्मृति में बने संग्रहालय में रखने की तैयारी की जा रही  थी, लेकिन कोरोना महामारी के चलते इसे अभी स्थानांतरित नहीं किया जा सका था. 

phanishwar nath renu literary creations and heritage stealing
  • 5/5

जहानाबाद के पूर्व सांसद डॉ. अरुण कुमार ने कहा कि यह बहुत ही दुखद घटना है. बिहार में सुशासन की सरकार में इन दिनों चोरी और लूट की वारदात काफी बढ़ गई हैं. बिहार पुलिस तो बैंक लुटेरों को पकड़ नहीं पा रही है, फिर भी बिहार के चीफ सेक्रेटरी और DGP से आग्रह करूंगा कि रेणु जी की लिखी किताबें हमारी विरासत की धरोहर हैं. उन्हें जल्द से जल्द बरामद किया जाए. फणीश्वर नाथ रेणु के परिजन नवनीता सिंह ने बताया कि ये बेहद दुर्भाग्यपूर्ण घटना है. रेणु जी की कृतियां देश की धरोहर हैं.