scorecardresearch
 

कोलकाता: फेक कॉल सेंटर का भंडाफोड़, अमेजन एम्प्लॉई बनकर करते थे ठगी; 22 गिरफ्तार

कोलकाता पुलिस के डिटेक्टिव डिपार्टमेंट की एंटी राउडी सेक्शन की टीम ने मंगलवार को सूचना के आधार पर न्यू अलीपुर इलाके में छापा मारा था. यह कॉल सेंटर बंकिम मुखर्जी सराणी में स्थित था.

प्रतीकात्मक प्रतीकात्मक
स्टोरी हाइलाइट्स
  • गिफ्ट देने के नाम पर लोगों के साथ ठगी करता था गिरोह
  • ठगी के शिकार लोगों में ऑस्ट्रेलिया के नागरिक भी

प. बंगाल के कोलकाता में पुलिस ने बुधवार को 22 लोगों को फर्जी कॉल सेंटर चलाने के आरोप में गिरफ्तार किया है. पुलिस के मुताबिक, ये लोग खुद को अमेजन के कर्मचारी बनकर लोगों से ठगी करते थे. 

समाचार एजेंसी के मुताबिक, कोलकाता पुलिस के डिटेक्टिव डिपार्टमेंट की एंटी राउडी सेक्शन की टीम ने मंगलवार को सूचना के आधार पर न्यू अलीपुर इलाके में छापा मारा था. यह कॉल सेंटर बंकिम मुखर्जी सराणी में स्थित था. 

बिना दस्तावेजों के चला रहे थे कॉल सेंटर

पुलिस ने बताया कि आरोपी के पास कॉल सेंटर चलाने के लिए कोई दस्तावेज नहीं थे. शुरुआती जांच में पता चला है कि आरोपी इंटरनेट कम्युनिकेशन सिस्टम से लोगों से बात करते थे. ये लोग खुद को अमेजन के कर्मचारी बताते थे. आरोपी लोगों को बताते थे कि उन्होंने गिफ्ट जीता था. इसके बदले वे कुछ पैसे देने के लिए कहते थे. 

ऑस्ट्रेलिया के लोग भी हुए ठगी का शिकार

पुलिस के मुताबिक, ठगे हुए लोगों में ऑस्ट्रेलिया के लोग भी शामिल हैं. आरोपियों ने टीमव्यूअसर और एनीडेस्क जैसे सॉफ्टवेयर के माध्यम से ऑस्ट्रेलिया के नागरिकों के कम्प्यूटर को टारगेट करके पीड़ितों से ऑस्ट्रेलियन डॉलर का भुगतान करने के लिए कहा.

पुलिस के मुताबिक, कॉल सेंटर्स से आपत्तिजनक दस्तावेज भी मिले हैं.पुलिस ने इन्हें जब्त कर लिए हैं. इस मामले में पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया और मामले की जांच की जा रही है. बताया जा रहा है कि ये गिरोह कई लोगों को अपना शिकार बना चुका है. इनमें कुछ ऑस्ट्रेलियाई नागरिक भी हैं.
 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें