scorecardresearch
 

जेडे मर्डर केस: वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुई छोटा राजन की पेशी

विशेष न्यायाधीश एएल पनसारे ने 22 दिसंबर, 2015 को छोटा राजन के खिलाफ पेशी का वारंट जारी किया था. उसे सात जनवरी को अदालत के सामने पेश होने के लिए कहा गया था. पेशी के दौरान छोटा राजन ने मराठी भाषा में अपना नाम राजेंद्र सदाशिव निकलजे बताया.

अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन

सन् 2011 में हुए पत्रकार जे डे की हत्या के मामले में मंगलवार को अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन को वीडियो  कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मकोका की विशेष अदालत के सामने पेश किया गया. छोटा राजन इस समय तिहाड़ जेल में बंद है. उसे यहां विशेष सुरक्षा में रखा गया है.

विशेष न्यायाधीश एएल पनसारे ने 22 दिसंबर, 2015 को छोटा राजन के खिलाफ पेशी का वारंट जारी किया था. उसे सात जनवरी को अदालत के सामने पेश होने के लिए कहा गया था. पेशी के दौरान छोटा राजन ने मराठी भाषा में अपना नाम राजेंद्र सदाशिव निकलजे बताया.

वकील की तलाश में है राजन
न्यायाधीश पनसारे ने राजन को जे डे हत्याकांड के बारे में विस्तार से बताया और उसे हिरासत में लेने का आदेश दिया. राजन और न्यायाधीश के बीच पूरी बातचीत मराठी में हुई. राजन ने अदालत से कहा कि उसके पास मुंबई में कोई वकील नहीं है. वह वकील की तलाश कर रहा है.

19 जनवरी को तय होगा आरोप
विशेष सरकारी अभियोजक दिलीप शाह ने बताया कि 19 जनवरी को इस मामले में अगली सुनवाई होगी. उस समय आरोप तय किए जाएंगे. इससे पहले सीबीआई ने अदालत के आदेश की एक प्रति तिहाड़ जेल में पेश की, जिसमें छोटा राजन को वीडियो  कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पेशी का निर्देश दिया गया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें