scorecardresearch
 

ईरान में मोसाद ने मारा अलकायदा का मोस्ट वांटेड, लादेन की बहू की भी मौत

इजराइल के सीक्रेट एजेंट्स ने ईरान में अब्दुल्ला को मार गिराया. अब्दुल्ला को 7 अगस्त को मार गिराया गया. अब्दुल्ला के साथ तेहरान में उसकी बेटी और ओसामा बिन लादेन के बेटे हमजा बिन लादेन की विधवा भी मारी गई.

प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • तेहरान में मारा गया अब्दुल्ला अहमद अब्दुल्ला
  • 1998 में अमेरिकी दूतावास पर हमले से था संबंधित
  • अलकायदा आतंकी के साथ मारी गई उसकी बेटी भी 

इजराइल ने अलकायदा आतंकी अबू मोहम्मद मसरी उर्फ अब्दुल्ला अहमद अब्दुल्ला को मार गिराया है. 58 साल का अब्दुल्ला ईरान में रह रहा था. अब्दुल्ला पर 22 साल पहले साल 1998 में अफ्रीका में अमेरिका के दो दूतावासों पर हुए बम हमले के मास्टरमाइंड का सहयोग करने का आरोप था.

समाचार एजेंसी स्पुतनिक की रिपोर्ट के मुताबिक अब्दुल्ला को इजराइल की खुफिया एजेंसी मोसाद के सीक्रेट दस्ते ने मार गिराया. न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका के आदेश पर इजराइल के सीक्रेट एजेंट्स ने ईरान में अब्दुल्ला को मार गिराया. अब्दुल्ला को 7 अगस्त को मार गिराया गया. रिपोर्ट के मुताबिक अब्दुल्ला के साथ तेहरान में उसकी बेटी और ओसामा बिन लादेन के बेटे हमजा बिन लादेन की विधवा भी मारी गई.

देखें: आजतक LIVE TV

हालांकि, यह साफ नहीं हो सका है कि अब्दुल्ला को मारे जाने के अभियान में अमेरिका का क्या रोल रहा, लेकिन माना जा रहा है कि अमेरिका उसपर लंबे समय से नजर रखे हुए था. अब्दुल्ला का नाम एफबीआई की 170 मोस्ट वांटेड आतंकियों की सूची में सातवें नंबर पर था. न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक अब्दुल्ला साल 2015 से तेहरान के पसदरान जिले में रह रहा था.

बता दें कि 11 सितंबर 2001 में पेंटागन पर हुए हमले के बाद अमेरिका ने साल 2011 में ओसामा बिन लादेन को मार गिराया था. लादेन को तत्कालीन राष्ट्रपति बराक ओबामा के आदेश पर सीआईए, एसएडी और एसओजी ने संयुक्त ऑपरेशन में मार गिराया था.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें