scorecardresearch
 

मामा कहलाता है दिल्ली का ये गैंगस्टर, कभी बना था निर्दलीय MLA

Most Wanted Gangster रामबीर शौकीन उत्तर प्रदेश की बागपत जेल में बंद था. लेकिन अपने रसूख के दम पर वो कैद में होते हुए भी अपने भांजे नीरज बवानिया के जरिए जेल के बाहर और अंदर अपना राज चला रहा था. 26 सितंबर 2018 को रामबीर पेशी पर दिल्ली आया था और तभी फरार हो गया था.

ख़बर है कि इस वक्त रामबीर नेपाल में रह रहा है (फाइल फोटो) ख़बर है कि इस वक्त रामबीर नेपाल में रह रहा है (फाइल फोटो)

दिल्ली का पूर्व विधायक रामबीर शौकीन जुर्म की दुनिया में मामा के नाम से जाना जाता है. दिल्ली अनसीआर और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में उसका आतंक है. दिल्ली का ये पूर्व विधायक दिल्ली और यूपी पुलिस का मोस्ट वांटेड है. रामबीर शौकीन की एक पहचान और भी है, वो रिश्ते में दिल्ली के सबसे खूंखार गैंगस्टर नीरज बवानिया का मामा लगता है. यही वजह है की जुर्म की दुनिया में उसे मामा बुलाया जाता है.

एक वक्त में रामबीर शौकीन का संबंध कांग्रेस पार्टी से था. लेकिन 2013 के दिल्ली विधानसभा चुनाव में वह मुंडका सीट से निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ा था. इस चुनाव में रामबीर ने जीत दर्ज की थी. और उन्होंने अरविंद केजरीवाल की 49 दिन की सरकार को समर्थन भी दिया था.

कुछ समय पहले तक रामबीर शौकीन उत्तर प्रदेश की बागपत जेल में बंद था. लेकिन अपने रसूख के दम पर वो कैद में होते हुए भी अपने भांजे नीरज बवानिया के जरिए जेल के बाहर और अंदर अपना राज चला रहा था. 26 सितंबर 2018 को रामबीर पेशी पर दिल्ली आया था. लेकिन दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में मेडिकल करवाने के दौरान वो फरार हो गया. उसके भाग जाने की ख़बर से हड़कंप मच गया था.

इस मामले में यूपी और दिल्ली पुलिस की काफी किरकिरी हुई. अब पुलिस कस्टडी से फरार हुए पूर्व विधायक रामबीर शौकीन को पूरे 6 महिने बीत चुके हैं, लेकिन यूपी और दिल्ली पुलिस अभी तक उसे गिरफ्तार नहीं कर पाई है. पुलिस सूत्रों के मुताबिक रामबीर इस वक्त नेपाल में छुपा हुआ है.

रामबीर शौकीन के फरार होने के बाद यूपी पुलिस ने पेशी पर आए 3 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया था. अब जांच में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है. दरअसल, रामबीर शौकीन दिल्ली के सफदरजंग असप्ताल से नहीं बल्कि दिल्ली में अपने घर से फरार हुआ था.

सूत्रों के मुताबिक पेशी के दौरान उसकी सुरक्षा में लगे पुलिस वालों को रामबीर ने अपने रसूख से खरीद लिया था और पेशी के बहाने वो दिल्ली में अपने घर पर ही ठहरता था. उस वक्त भी रामबीर पेशी के लिए दिल्ली आया तो अपने घर पर ही ठहरा था और वहीं से वो फरार हो गया था. तभी से उसकी कोई ख़बर नहीं है.

सूत्रों के मुताबिक रामबीर लोक सभा चुनाव में किसी एक प्रत्याशी को फाइनेंस करने की भी योजना बना रहा है. जिससे दिल्ली में उसकी सत्ता चलती रहे और अदालत में चल रहे उसके तमाम मामलों में उसे राहत भी मिल जाए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें