scorecardresearch
 

यौन शोषण के बाद बनाता था MMS, अश्लील बाबा गिरफ्तार

इस दुनिया के कुछ ऐसे बाबा हैं, जो हवस और रंगीनियों में इस कदर डूबे कि उनकी करतूतें देखकर और सुनकर विश्वास की नाजुक डोर से बंधे हाथ खुल गए और अब ऐसे बेशर्म बाबाओं की इस लंबी फेररिस्त में एक और नाम बाबा परमानंद का जुड़ गया है.

हवस, रंगीनियां... बेशर्मी. ये वो लफ्ज हैं, जिन्हें सुनते ही दिमाग में किसी गिरे हुए इंसान की तस्वीर कौंधती है, यकीनन इन लफ्जों से किसी साधु-संत, पुजारी और बाबा का कोई वास्ता नहीं हो सकता. लेकिन इस दुनिया के कुछ ऐसे बाबा हैं, जो हवस और रंगीनियों में इस कदर डूबे कि उनकी करतूतें देखकर और सुनकर विश्वास की नाजुक डोर से बंधे हाथ खुल गए और अब ऐसे बेशर्म बाबाओं की इस लंबी फेररिस्त में एक और नाम बाबा परमानंद का जुड़ गया है.

बाबाओं की बेशर्म करतूतें
दरअसल सचमुच ये देश बाबाओं का है, करोड़ों के खजाने से लेकर एक बड़ी आबादी के दिलो-दिमाग पर इन्हीं बाबाओं का कब्जा है. बाबा इशारा करते नहीं कि दुनिया चरणों में लोट जाती है. धन-दौलत, इज्जत-शोहरत, मान-मर्यादा, होशो-हवास सबकुछ बाबा के कदमों पर और बाबा हैं कि अपने भक्तों की इसी भोलेपन का फायदा उठाकर एक से बढ़कर एक गुल खिला रहे हैं. कोई नाच रहा है, कोई नागिन डांस कर रहा है, कोई लड़कियों के साथ झूले झूल रहा है तो कोई बिस्तर पर अपनी शिष्या के साथ अटखेलियां कर रहा है, इसके अलावा कोई स्वीमिंग पूल में लड़कियों के साथ नहाने का लुत्फ उठा रहा है. इन बाबाओं की सड़क छाप हरकतें और शर्मा देने वाली बेशर्म करतूतें जारी है. क्योंकि भक्तों को अपने भगवान पर यकीन है जिसकी वजह से वो इन पाखंडी लोगों तक खींचे चले आते हैं.

बाबा परमानंद को पुलिस ने किया गिरफ्तार
लेकिन नए जमाने के इन नए भगवानों ने सच की ऐसी धज्जियां उड़ाई हैं कि झूठ शर्मा बैठा है. दुनियादारी, संसार, मोह-माया सब से दूर होने का दावा करने वाले इन बाबाओं ने ऐसे-ऐसे गुल खिलाए हैं कि किसी शैतान को भी शर्मिंदा कर जाएं. लेकिन यहां तो सारे के सारे बाबा हैं. भक्ती की बड़ी-बड़ी दुकानों के मालिक. मोह-माया, भोग-विलास से दूर ले जाने के बोलवचन देने वाले महापुरुष वाकई कमाल है और कमाल के इन्हीं बाबाओं की जमात में बाबा परमानंद नाम शामिल हो गया है.

भगवान के नाम पर करता था लोगों को गुमराह
रमाशंकर तिवारी उर्फ परमानंद बाबा ने आज से कोई 25 साल पहले पहली बार बाराबंकी में धुनी रमाई थी, लेकिन इसके बाद खुद को महाकाली का भक्त बताकर बाबा ने अपना ऐसा जाल-बट्टा फैलाया कि देखते ही देखते हजारों लोग बाबा की ओर खिंचे चले आए. मौका ताड़कर बाबा ने भी अपने भक्तों की दुखती रग पर हाथ रख दिया और संतान प्राप्ति के मामले में अपने पास करिश्माई ताकत होने का दावा करने लगा. धर्म-कर्म की बातों के बीच भगवा चोले ने लोगों की निगाहों पर ऐसा पर्दा डाला कि अब लोग आंख मूंद कर उन पर यकीन करने लगे और इस पाखंडी बाबा को इसी मौके का इंतजार था.

अकेले कमरे में महिलाओं से मिलता था
अब वो औलाद और बेटे की चाहत रखनेवाली महिलाओं को अकेले कमरे में बुलाता . उनके साथ ज्यादती करता और कमरे में लगे छुपे हुए कैमरों से उसकी वीडियो बना लेता, फिर जैसे ही ये महिलाएं एक बार उसके जाल में फंस जाती, फिर तो बाबा इन्हीं वीडियोज के ज़रिए उन्हें ब्लैकमेल करना शुरू कर देता, कभी रुपये-पैसों के लिए ब्लैकमेल तो कभी अपनी गंदी जेहनियत के लिए ब्लैकमेल, लेकिन कहते हैं ना कि जब पाप का घड़ा भरता है, तो फूट भी जाता है तो एक रोज इस बाबा के पाप का घड़ा भी अचानक फूट गया और वो भी कुछ ऐसे, जैसे कोई सोच भी नहीं सकता था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें