scorecardresearch
 

अफ्रीका में बोको-हराम का कोहराम, ऐसे किया इस साल का सबसे बड़ा कत्ल-ए-आम

बोको-हराम का नाम भर सुनने से अफ्रीका में लोग कांप उठते हैं. उसी आतंकी संगठन ने नाईजीरिया में 110 बेगुनाहों का गला काट दिया. कभी मज़हब के नाम पर तो कभी गद्दारी और जासूसी के नाम पर बोको हराम ऐसी भयानक करतूतों को अंजाम देता आया है.

बोको हराम ने दरिंदगी के मामले में ISIS को भी पीछे छोड़ दिया है बोको हराम ने दरिंदगी के मामले में ISIS को भी पीछे छोड़ दिया है
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ISIS के आतंकियों से भी ज़्यादा बेरहम
  • अफ्रीका के आधे दर्जन देशों में है जिसका खौफ़
  • उस बोको-हराम ने फिर पार की बेरहमी की हदें

अफीक्री देशों में आतंकवादी संगठन बोको-हराम का कोहराम नया नहीं है. लेकिन इस बार बोको-हराम ने जो कुछ किया है, उससे अचानक एक बार फिर पूरी दुनिया का ध्यान इस आतंकी संगठन ने अपनी तरफ खींचा है. वजह ये कि अब इस आतंकवादी संगठन ने करीब 100 निहत्थे लोगों का सिर कलम कर दिया है. उन सभी बेगुनाहों को इस संगठन ने जासूसी के इल्जाम में पकड़ा था. और उनमें कुछ लगान ना दे पाने के चलते क़त्ल कर दिए गए.

बोको-हराम का नाम भर सुनने से अफ्रीका में लोग कांप उठते हैं. उसी आतंकी संगठन ने नाईजीरिया में 110 बेगुनाहों का गला काट दिया. कभी मज़हब के नाम पर तो कभी गद्दारी और जासूसी के नाम पर बोको हराम ऐसी भयानक करतूतों को अंजाम देता आया है.

सौ से ज्यादा लाशें और हर तरफ मातम का मंजर. ये सब देखकर किसी का भी दिल खौफ से भर सकता है. नाईजीरिया के मैदूगुरी इलाके में एक साथ इतनी मौतों और इतनी लाशों का ये मंज़र किसी कुदरती अज़ाब का अंजाम नहीं, बल्कि उस इंसानी फितूर का नतीजा है, जिसे दुनिया बोको हराम के नाम से जानती हैं. जी हां, वही आतंकवादी संगठन, जिसने अफ्रीका में अपनी दहशत और बेरहमी से दुनिया के सबसे खतरनाक माने जाने वाले आतंकवादी संगठन आईएसआईएस को भी पीछे छोड़ दिया है. जिसके मौत के बांटने के तौर-तरीके देख कर दुनिया के बड़े से बड़े और ताकतवर मुल्क तो दूर, खुद संयुक्त राष्ट्र संघ भी हिल गया है.

इस मामले में तो इस बोको हराम ने ऐसा कुछ कर दिया है, जैसा कोई सोच भी नहीं सकता. जी हां, इस आतंकवादी संगठन ने एक ही झटके में एक साथ 110 लोगों को अगवा कर उनका गला काट कर उन्हें भयानक मौत दी है. अब एक साथ इतने लोगों को अगवा करना और उनकी जान ले लेना अपने-आप में बेहद अजीब और हैरान करने वाली बात है. लेकिन इस वारदात ने साबित कर दिया है कि बोको हराम के आतंकवादियों की तादाद इस इलाक़े में कितनी ज़्यादा है और वो नाईजीरिया के कुछ खास इलाक़ों में अपनी कैसी पैठ रखते हैं.

देखें- आजतक LIVE TV

शनिवार, सुबह 8 बजे, जाबरमारी गांव, मैदूगुरी
कुछ छिटपुट वारदातों को छोड़ दें, तो शुक्रवार की रात तक इस इलाक़े में ज़िंदगी आम दिनों की भांति चल रही थी. लेकिन जैसे ही शनिवार की सुबह सूरज की रोशनी ज़मीन तक पहुंची, बाइक पर आए बोको हराम के आतंकियों ने कोहराम मचा दिया. सैकड़ों आतंकियों ने जाबरमारी गांव में चावल के खेतों में काम करनेवाले मजदूरों को अगवा किया और फिर उनके हाथ-पांव बांध कर उनकी हत्या कर दी. 

पहले आई खबर के मुताबिक मरनेवालों की तादाद 30 बताई गई. लेकिन जल्द ही ये आंकड़ा, 42, 70 और आख़िर में 110 बताई गई. और इसी के साथ इस साल की इस सबसे बड़ी वारदात में 110 से ज़्यादा बेगुनाह आतंकियों के हाथों मारे गए. सूत्रों की मानें तो आतंकियों ने जिन लोगों की जान ली, उनके परिवारों की महिलाओं और लड़कियों को भी अगवा कर लिया.

बाद में इस भयानक वारदात पर मुहर लगाते हुए संयुक्त राष्ट्र के यूएन कोऑर्डिनेटर एडवर्ड कल्लोन ने एक सौ दस लोगों के क़त्ल की पुष्टि की. उन्होंने कहा कि ये इस साल नागरिकों पर हुआ इस आतंकी संगठन का सबसे भयानक और सबसे बड़ा हमला है. स्थानीय प्रशासन ने मरनेवाले मजदूरों में से ज़्यादातर की पहचान सोकोटो राज्य के निवासी के तौर पर की है. और बताया है कि ये अपने-अपने घरों से करीब एक हज़ार किलोमीटर दूर रोज़ी-रोटी की तलाश में यहां तक आए थे. इत्तेफ़ाक से जिस रोज़ ये क़त्लेआम हुआ, उसी रोज़ मैदूगुरी में स्थानीय चुनाव भी होने थे.

सूत्रों की मानें तो बाइक पर चलनेवाले बोको हराम के ये आतंकवादी इस इलाके में समानांतर सरकार चला रहे हैं, जिन पर किसी का ज़ोर नहीं है. वो जब चाहे, जिसे चाहे अगवा कर ले जाते हैं और उसे अपने हिसाब से सज़ा देते हैं. किसी पर कोड़े बरसाए जाते हैं, किसी के हाथ पांव काटे जाते हैं तो किसी की जान ही ले ली जाती है. इस भयानक नरसंहार के बारे में सूत्रों का कहना है कि इसके पीछे जबरन वसूली का गणित छिपा है. असल में इन आतंकियों ने खेत मजदूरों से हमेशा की तरह उगाही की कोशिश की थी, जिससे कुछ मजदूरों ने इनकार कर दिया और इसके बाद बदले के तौर पर आतंकवादियों ने लोगों की अगवा कर उनकी जान ले ली.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें