scorecardresearch
 

कोरोना के नये रूप, अहमदाबाद में डेल्टा और कप्पा वैरिएंट्स के मरीज मिले

पुणे की एक लैब में गुजरात के अहमदाबाद से, जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजे गए कोविड-19 के नमूनों में, 'डेल्टा' और 'कप्पा' दोनों वेरिएंट्स पाए गए हैं.

सैंपल में कप्पा और डेल्टा दोनों वेरिएंट पाए गए (सांकेतिक फोटो) सैंपल में कप्पा और डेल्टा दोनों वेरिएंट पाए गए (सांकेतिक फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मरीज़ों में डेल्टा और कप्पा दोनों वेरिएंट
  • जीनोम सीक्वेंसिंग से वेरिएंट का पता चला

अगस्त और सितंबर में गुजरात के अहमदाबाद से, कोविड-19 (Covid-19) के मरीजों के नमूने, जीनोम सीक्वेंसिंग (Genome Sequencing) के लिए पुणे की एक लैब में भेजे गए थे. जांच में इन मरीज़ों के 'डेल्टा' और 'कप्पा' दोनों वेरिएंट्स (Delta and Kappa variants) से संक्रमित होने का पता चला है.

एजेंसी के मुताबिक, बीजे मेडिकल के माइक्रोबायोलॉजी विभाग के डॉ कनू पटेल ने कहा कि पुणे की नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी लैब में भेजे गए दो नमूनों में से अगस्त में भेजे गए नमूने में कोरोना वायरस के डेल्टा और कप्पा दोनों वेरिएंट पाए गए, जबकि सितंबर में भेजे गए एक नमूने में सिर्फ़ डेल्टा वेरिएंट था.

उन्होंने कहा कि जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए अक्टूबर में भेजे गए COVID-19 रोगियों के नमूनों के नतीजे आने बाकी हैं. नवंबर में अब तक कोई नमूना नहीं भेजा गया है.

डेल्टा वेरिएंट पहली बार, पिछले साल अक्टूबर में भारत में पाया गया था. इसके बाद से ये सभी देशों की चिंता का कारण बना हुआ है. इस साल अप्रैल-मई में महामारी की दूसरी लहर में भी इस वेरिएंट की भूमिका थी. कप्पा वेरिएंट की बात करें तो यह वेरिएंट डेल्टा की तुलना में मॉडरेट है. B.1.617.1 कप्पा वेरिएंट है, जबकि B.1.617.2 डेल्टा वेरिएंट.

अहमदाबाद जिले में अब तक 2,38,410 COVID-19 मामले दर्ज किए गए हैं, जिनमें से 63 एक्टिव केस हैं. जबकि पूरे गुजरात की बात करें तोयहां कोविड के 8,26,950 मामलों में से 230 एक्टिव हैं. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें