scorecardresearch
 

Purnia: कोरोना से जिंदगी की जंग हारे IG विनोद कुमार, पटना के AIIMS में निधन

उनका इलाज पटना के एम्स में चल रहा था. जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई. इस खबर से पुलिस महकमे में शोक की लहर दौड़ पड़ी है. विनोद कुमार पूर्णिया को पहले आईजी के तौर पर मिले थे.

पूर्णिया आई जी विनोद कुमार का निधन. पूर्णिया आई जी विनोद कुमार का निधन.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पूर्णिया आईजी विनोद कुमार का निधन
  • 2 दिन से उनकी हालत बिगड़ी हुई थी
  • पटना के एम्स में चल रहा था इलाज

पुलिस महकमे से बड़ी खबर सामने आई है. पूर्णिया आईजी विनोद कुमार का निधन हो गया है. आईजी विनोद कुमार के निधन का कारण कोरोना वायरस बताया जा रहा है. बीते दिनों से वो कोरोना से संक्रमित थे. वहीं, 2 दिन से उनकी हालत बिगड़ी हुई थी, जिसके बाद उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था.

जानकारी के मुताबिक, उनका इलाज पटना के एम्स में चल रहा था. जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई. इस खबर से पुलिस महकमे में शोक की लहर दौड़ पड़ी है.विनोद कुमार पूर्णिया को पहले आईजी के तौर पर मिले थे. 

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें... 

पूर्णिया रेंज ने बीते वर्ष अपना पहला आईजी पाया था. इससे पहले पूर्णिया रेंज में डीआईजी हुआ करता था. 14 अगस्त 2019 को पूर्णिया रेंज को विनोद कुमार के रूप में पहला आईजी मिला. जिन्होंने पहले ही दिन प्रेस को बुलाकर पूर्णिया रेंज में लॉ एंड ऑर्डर पर कैसे काम करेंगे, इसकी रणनीति बताई थी.

पद्मश्री भागीरथी देवी ने रामनगर विधानसभा से​ किया नामांकन
IG विनोद कुमार की कोरोना से मौत

कोरोना काल में आईजी विनोद कुमार खुद पूर्णिया की सड़कों पर उतर कर ड्यूटी निभाते थे. दिवंगत आईजी विनोद कुमार की मौत कोरोना से हुई लेकिन कोरोना की लड़ाई में इनकी भूमिका बेहद अहम थी. पूर्णिया की सड़कों पर आईजी खुद से उतर कर लोगों को मास्क लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग पालन करने के लिए जागरूक करते थे. हर चौक चौराहे और मुख्य बाजार में लोगों के बीच कभी भी धमक जाते थे.  कोरोना से लड़ाई के लिए लोगों को घरों में रहने की नसीहत देते नजर आते थे.  (इनपुट-संतोष नायक )

ये भी पढ़ें:

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें