scorecardresearch
 

कोरोना वायरस पर आज NAM का वर्चुअल समिट, पीएम मोदी होंगे शामिल

गुट निरपेक्ष देशों का ये सम्मेलन अजरबैजान के राष्ट्रपति इल्हाम अलियेव की कोशिशों के बाद आयोजित किया जा रहा है. इल्हाम अलियेव गुट निरपेक्ष आंदोलन के मौजूदा चेयरमैन हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शाम करीब 4.30 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इस कार्यक्रम में शामिल होंगे.

X
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी. (फोटो- पीटीआई)
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी. (फोटो- पीटीआई)

  • गुटनिरपेक्ष देशों का कोरोना पर सम्मेलन
  • अजरबैजान कर रहा है आयोजित
  • कोरोना से संघर्ष में एकजुट विकासशील देश

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को गुट निरपेक्ष (NAM) देशों के वर्चुअल सम्मलेन में शामिल होंगे. ये सम्मेलन कोरोना वायरस के वैश्विक संक्रमण से उपजे खतरे को लेकर हो रहा है. कोरोना संक्रमण से गुट निरपेक्ष के सदस्य देश भी जूझ रहे हैं. सम्मेलन में NAM के सदस्य देशों के बीच कोरोना से जंग में सहयोग बढ़ाने और इसका इलाज ढूंढने पर चर्चा होगी.

NAM के वर्चुअल समिट में शामिल होंगे पीएम

गुट निरपेक्ष देशों का ये सम्मेलन अजरबैजान के राष्ट्रपति इल्हाम अलियेव की कोशिशों के बाद आयोजित किया जा रहा है. इल्हाम अलियेव गुट निरपेक्ष आंदोलन के मौजूदा चेयरमैन हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज शाम 4.30 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इस कार्यक्रम में शामिल होंगे. इससे पहले भी पीएम मोदी कोरोना संक्रमण को लेकर कई राष्ट्राध्यक्षों से फोन पर बात कर चुके हैं.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें

कोरोना पर आयोजित इस ऑनलाइन सम्मेलन में गुट निरपेक्ष आंदोलन के सदस्य देश एक राजनीतिक दस्तावेज जारी करेंगे, जिसका विषय वस्तु होगा 'कोविड-19 के खिलाफ एकजुटता'. इस दस्तावेज में इस बात की भी चर्चा होगी कि एनएएम के सदस्य देश कोरोना के खिलाफ जंग में कैसे आपसी सहयोग बढ़ाएं और मानवता के सामने संकट बनकर उभरी इस बीमारी का उपचार तलाशें.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

पाकिस्तान भी करेगा शिरकत

गुट निरपेक्ष देशों के इस वर्चुअल सम्मेलन में पाकिस्तान भी शामिल होगा. पाकिस्तान के राष्ट्रपति आरिफ अल्वी इस डिजिटल प्लेटफॉर्म पर अपने देश का प्रतिनिधित्व करेंगे.

देश-दुनिया के किस हिस्से में कितना है कोरोना का कहर? यहां क्लिक कर देखें

संयुक्त राष्ट्र के बाद दूसरा बड़ा संगठन है NAM

गुट निरपेक्ष देशों का ये आंदोलन दुनिया की दशा-दिशा तय करने में अपनी प्रभावकारी भूमिका रखता है. हालांकि कुछ साल पहले इसकी ताकत और भी ज्यादा थी. NAM संयुक्त राष्ट्र के बाद दूसरा बड़ा राजनीतिक संगठन है. इसके साथ एशिया, अफ्रीका और लैटिन अमेरिका के 120 विकासशील देश जुड़े हुए हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें