scorecardresearch
 

कोरोना संकट में 7 Km के लिए 9 हजार रुपये मांगने वाले एंबुलेंस चालक को पुलिस ने किया गिरफ्तार

कोरोना संकट में कुछ एंबुलेंस चालक लोगों की मजबूरी का जमकर फायदा उठा रहे हैं. वहीं पुलिस भी इन पर सख्त हो चली है. गोविंदपुरी थाना क्षेत्र में ऐसा ही मामला सामने आया, तो पुलिस ने आरोपी एंबुलेंस चालक को जाल में फंसाने के लिए प्लान बनाया. 

एंबुलेंस चालक गिरफ्तार एंबुलेंस चालक गिरफ्तार
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बुखार आने पर हॉस्पिटल पहुंचाना था मरीज
  • घर से हॉस्पिटल की दूरी थी 7 किलोमीटर
  • पुलिस ने एंबुलेंस चालक को किया गिरफ्तार 

राजधानी दिल्ली में कोरोना मरीजों की संख्या दिन व दिन बढ़ती जा रही है. कोरोना मरीजों को हॉस्पिटल तक पहुंचाने के लिए एंबुलेंस चालक खूब मनमानी कर रहे हैं. कुछ ऐसा ही मामला सामने आया गोविंदपुरी थाना क्षेत्र में, जहां एंबुलेंस चालक ने महज 7 किमी दूर पहुंचाने के लिए मरीज के परिजनों से 9 हजार रुपये की मांग की, इतना ही नहीं 1500 रुपये एडवांस भी ले लिया. परिजनों की शिकायत के बाद पुलिस ने आरोपी एंबुलेंस चालक को पकड़ने के लिए जाल बिछाया. पुलिस ने कस्टमर बनकर उसी एंबुलेंस को एक बार फिर बुक कर​ लिया. 

1500 रुपये लिए एडवांस में 
आरोपी एंबुलेंस चालक का नाम फैजान है, जो संगम बिहार का रहने वाला है. बताया गया है कि गोविंदपुरी थाना पुलिस से यहीं के रहने वाले सोनू तिवारी ने शिकायत की थी. सोनू तिवारी ने बताया कि उसके बड़े भाई को तेज बुखार आ रहा था. बड़े भाई का अपोलो हॉस्टिपल पहुंचाने के लिए उसने एंबुलेंस चालक से बात की. एंबुलेंस चालक ने मजबूरी का फायदा उठाते हुए उनसे अधिक पैसों की डिमांड की. पीड़ित ने पुलिस को बताया कि उसके घर से अपोलो हॉस्पिटल की दूरी करीब 7 ​किलोमीटर है. एंबुलेंस चालक ने महज 7 किमी दूर के लिए 1500 रुपये एडवांस लिया और 9 हजारे रुपये की डिमांड की. वहीं ड्राइवर ने ये भी बोला, कि यदि अपोलो में कोरोना मरीज को भर्ती नहीं किया गया, तो वहां से दूसरे हॉस्पिटल में ले जाने पर अतरिक्त चार्ज देना होगा.  

इस तरह दबोचा
वहीं पीड़ित की शिकायत के बाद पुलिस सक्रिय हो गई. पुलिस ने आरोपी एंबुलेंस चालक को पकड़ने के लिए जाल बिछाया. कस्टमर बनकर पुलिस ने एंबुलेंस चालक फैजान से कोरोना मरीज को अस्पताल पहुंचाने के लिए बात की. एम्स तक पहुंचाने के लिए आरोपी एंबुलेंस चालक फैजान से 9 हजार रुपये में बात हुई. इसके बाद जब पैसे देने की बात आई, तो पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया. इतना ही नहीं पुलिस ने उसकी एंबुलेंस भी जब्त कर ली है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें