scorecardresearch
 

Corona in Delhi: दिल्ली में न केस थम रहे, न मौतों का सिलसिला, 24 गुना बढ़ गए कंटेनमेंट जोन

Corona Omicron in Delhi: दिल्ली में कोरोना की रफ्तार बेलगाम होती जा रही है. एक्टिव केस 94 हजार के पार पहुंच गए हैं. संक्रमण दर भी बढ़कर 30 फीसदी के करीब आ गए हैं. इसी के साथ कंटेनमेंट जोन की संख्या भी बढ़ गई है.

X
3 संक्रमित मिलने पर कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया जाता है. (फाइल फोटो-PTI) 3 संक्रमित मिलने पर कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया जाता है. (फाइल फोटो-PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • दिल्ली में फिलहाल 23,997 कंटेनमेंट जोन
  • सबसे ज्यादा कंटेनमेंट जोन साउथ दिल्ली में
  • दिल्ली में संक्रमण दर बढ़कर 30% के करीब

Corona Omicron in Delhi: राजधानी दिल्ली में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ने लगे हैं. इसी के साथ कंटेनमेंट जोन (Containment Zones in Delhi) की संख्या भी बढ़ गई है. पिछले 15 दिन में ही दिल्ली में कंटेनमेंट जोन 24 गुना बढ़ गए हैं. 31 दिसंबर को दिल्ली में 945 कंटेनमेंट जोन थे, जिनकी संख्या 13 जनवरी तक बढ़कर 24 हजार के करीब पहुंच गई है.

दक्षिणी दिल्ली में 8 हजार 300 से ज्यादा कंटेनमेंट जोन हैं. वहीं, पश्चिमी दिल्ली में 4,100, सेंट्रल दिल्ली में 3,500 और नई दिल्ली में 2,354 कंटेनमेंट जोन बने हैं. पूर्वी दिल्ली में 151, उत्तर पूर्वी दिल्ली में 279, उत्तर पश्चिम में 547 और दक्षिण पश्चिम में 851 कंटेनमेंट जोन हैं.

किसी भी इलाके या घर को कंटेनमेंट जोन तब घोषित किया जाता है, जब वहां 3 से ज्यादा संक्रमित मिलते हैं. हालांकि, जिला अधिकारी अपने विवेक से किसी भी इलाके को कंटेनमेंट जोन घोषित कर सकते हैं. दिल्ली में फिलहाल कई ऐसे कंटेनमेंट जोन हैं जहां 3 से भी कम मरीज हैं.

ये भी पढ़ें-- Corona: दिल्ली से मुंबई तक अस्पतालों में बढ़ने लगी भीड़... तीसरी लहर का पीक अभी भी दूर

दिल्ली में संक्रमण दर 30 फीसदी के करीब

- राजधानी दिल्ली में ओमिक्रॉन (Omicron) की वजह से कोरोना का संक्रमण बहुत तेजी से बढ़ता जा रहा है. दिल्ली में अब संक्रमण दर बढ़कर 30 फीसदी के करीब पहुंच गई है. 

- स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, दिल्ली में गुरुवार को कोरोना के 28 हजार 867 नए मामले सामने आए हैं. ये आंकड़ा पिछले साल के 20 अप्रैल के बाद सबसे ज्यादा है. 20 अप्रैल 2021 को दिल्ली में 28,395 केस आए थे.

- इतना ही नहीं, दिल्ली में गुरुवार को 40 मरीजों की मौत हुई. ये आंकड़ा 10 जून के बाद सबसे ज्यादा है. इस महीने के 13 दिनों में दिल्ली में 164 लोगों की मौत हो चुकी है. 

- दिल्ली सरकार के मुताबिक, 9 से 12 जनवरी के बीच 4 दिन में 97 मरीजों की मौत हुई है. इनमें से 70 ऐसे थे जिन्हें वैक्सीन नहीं लगी थी. 8 लोग ही ऐसे थे जिन्हें वैक्सीन की दोनों डोज लगी थी.

अस्पतालों में 2,424 मरीज भर्ती

- दिल्ली सरकार के कोविड बुलेटिन के मुताबिक, 13 जनवरी तक राजधानी के अस्पतालों में 2,424 मरीज भर्ती हैं. इनमें से 55 कोरोना संदिग्ध हैं. 

- कोरोना संक्रमित मरीजों में से 628 मरीज आईसीयू में, 768 मरीज ऑक्सीजन सपोर्ट पर और 98 मरीज वेंटिलेंटर पर हैं. अभी 84.29% बेड खाली हैं.

- दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने बताया था कि मामले बढ़ने के बाद भी अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या कम है. उन्होंने कहा था कि 27 हजार मामले सामने आने के बाद भी जितने मरीज भर्ती हो रहे हैं, उतने ही मरीज पहले 10 हजार मरीज आने पर भर्ती हो रहे थे.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें