scorecardresearch
 

कोरोना: अब दफ्तरों में भी लगेगी वैक्सीन! केंद्र ने राज्यों को 11 अप्रैल तक तैयारी के लिए कहा

कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए टीकाकरण अभियान को और तेज किया जा रहा है. इस सिलसिले में केंद्र सरकार ने राज्यों से तैयारी करने को कहा है. हालांकि यह सुविधा उन ऑफिसों में मिलेगी जहां 100 पात्र या वैक्सीन के इच्छुक कर्मचारी होंगे. 

केंद्र सरकार ने वैक्सीनेशन को लेकर तैयारियां तेज कर दी हैं.(सांकेतिक तस्वीर) केंद्र सरकार ने वैक्सीनेशन को लेकर तैयारियां तेज कर दी हैं.(सांकेतिक तस्वीर)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सरकारी और निजी कार्यस्थलों पर लगेगी वैक्सीन
  • केंद्र सरकार ने राज्य के सचिवों को लिखा पत्र
  • केंद्र का 11 अप्रैल तक तैयारी करने का निर्देश

कोरोना वायरस संक्रमण के प्रकोप के बीच केंद्र सरकार ने वैक्सीनेशन पर जोर देने की तैयारियां शुरू कर दी है. केंद्र सरकार दफ्तरों में भी वैक्सीन लगाने की तैयारी में है. केंद्र ने इस संबंध में राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों को इस संबंध में तैयारी करने का निर्देश दिया है जिससे की 11 अप्रैल से यह सुविधा शुरू की जा सके. केंद्र सरकार के मुताबिक यह सुविधा उन दफ्तरों में मिलेगा जहां 100 पात्र या वैक्सीन के इच्छुक कर्मचारी होंगे. 

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव ने राज्यों के मुख्य सचिवों को पत्र लिखकर इस बारे में जानकारी दी है. पत्र में लिखा गया है कि फॉर्मल पेशे, मैन्युफैक्चरिंग और अन्य सेवाओं के सरकारी और निजी दफ्तरों में 45 साल से अधिक की उम्र वाले कर्मचारियों के वैक्सीनेशन के लिए यह फैसला लिया गया है.

पत्र में कहा गया है कि राज्यों के प्रशासन की मदद से वैक्सीनेशन अभियान को तेज और प्रभावी बनाने की लगातार कोशिश की जा रही है.

कोरोना वैक्सीनेशन अभियान को और तेज बनाने तथा ज्यादा से ज्यादा लोगों तक वैक्सीन पहुंचाने के लिए केंद्र सरकार दफ्तरों में भी वैक्सीनेशन सेशन की शुरुआत कर सकती है. ऐसी जगहों पर जहां लगभग 100 पात्र कर्मचारी हैं. उन जगहों को कोविड वैक्सीनेशन सेंटर के तौर पर टैग किया जाएगा.

इस अभियान को सफल बनाने के लिए केंद्र ने राज्यों की मदद के लिए गाइडलाइंस भी जारी की है. इस गाइडलाइंस के तहत राज्य एंव जिला प्रोग्राम मैंनेजर को जरूरी जानकारियां दी जाएंगी जिससे की कार्यस्थल पर भी वैक्सीन की खुराक दी जा सके. केंद्र ने कहा कि विचार-विमर्श के बाद यह अभियान 11 अप्रैल 2021 से शुरू किया जा सकता है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें