scorecardresearch
 

कोरोना की बूस्‍टर डोज और बच्‍चों के वैक्‍सीन पर क्‍या है भारत का प्‍लान? डॉ वीके पॉल ने बताया

डॉ वीके पॉल ने बताया कि भारत में फिलहाल बूस्‍टर डोज की कोई जरूरत नहीं है. इसके लिए एक व्‍यापक नीति बनाई जा रही है. अभी वर्तमान में फोकस ये है कि कैसे देश की जनसंख्‍या को वैक्‍सीन की दो डोज दी जाए.

नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल ने आजतक से खास बातचीत की है. (फाइल फोटो) नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल ने आजतक से खास बातचीत की है. (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बूस्‍टर डोज पर डॉ वीेके पॉल ने की अहम बात
  • बच्‍चों को कब लगेगी वैक्‍सीन, ये भी बताया

Coronavirus Vaccine Booster Dose/ Vaccine For kids: कोरोनावायरस की बच्‍चों की वैक्‍सीन को लेकर अब इंतजार हो रहा है, वहीं वैक्‍सीन की बूस्‍टर डोज को लेकर भी लगातार सवाल उठ रहे हैं. आखिर भारत में बूस्‍टर डोज लोगों को कब लगाई जाएगी? इन सारे बिंदुओं पर आजतक ने नीति आयोग के डॉ वीके पॉल से खास बातचीत की.

उन्‍होंने कहा कि भारत में फिलहाल बूस्‍टर डोज की कोई जरूरत नहीं है. इसके लिए एक व्‍यापक नीति बनाई जा रही है. अभी वर्तमान में फोकस ये है कि कैसे देश की जनसंख्‍या को वैक्‍सीन की दो डोज दी जाएं. डॉ पॉल ने कहा कि इस बूस्‍टर डोज को लेकर कई तरह की स्‍टडी चल रही हैं. जिसका अध्‍ययन किया जा रहा है. 

वहीं बच्‍चों की वैक्‍सीन के सवाल पर डॉ पॉल ने बताया कि इसे लेकर कोई देरी नहीं है. लेकिन पहले बच्‍चों के अभिभावकों और उनके टीचर्स के लिए वैक्‍सीन ज्‍यादा जरूरी है. वहीं उन्‍होंने ये भी स्‍पष्‍ट कर दिया कि अगर स्‍कूल खुलते हैं तो बच्‍चों के लिए वैक्‍सीन लगना जरूरी नहीं होगा.

वहीं कोरोना के मामले दुनिया में जिस तरह बढ़ रहे हैं, यूरोप में भी कोविड के मामलों में वृद्धि देखी गई है. इस सवाल पर डॉ पॉल बोले, इससे ये समझने की जरूरत है कि अभी हम रिलैक्‍स नहीं कर सकते हैं. कोविड प्रोटोकॉल का पालन करना होगा. डॉ वीके पॉल ने ये सारी बातें आईसीएमआर के डीजी डॉ बलराम भार्गव की पुस्‍तक के विमोचन पर कहीं. 
 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें