scorecardresearch
 

भारत बायोटेक 26 हजार वॉलिंटियर्स पर करेगी Covaxin के तीसरे फेज का ट्रायल

ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) से मंजूरी मिलने के बाद भारत बायोटेक कोरोना की वैक्सीन के तीसरे चरण के ट्रायल की तैयारियों में जुट गई है. कंपनी ने शुक्रवार को कहा कि कोविड-19 के उसके टीके Covaxin के पहले और दूसरे चरण के ट्रायल का अंतरिम विश्लेषण सफलतापूर्वक पूरा हो चुका है. अब 26 हजार वॉलिंटियर्स पर तीसरे चरण के ट्रायल की शुरुआत की जा रही है.

25 से ज्यादा केंद्रों पर होगा तीसरे फेज का ट्रायल (फाइल फोटो) 25 से ज्यादा केंद्रों पर होगा तीसरे फेज का ट्रायल (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • भारत बायोटेक कोरोना की वैक्सीन के तीसरे चरण के ट्रायल की तैयारियों में जुटी
  • तीसरे चरण का ट्रायल देश के 25 से ज्यादा केंद्रों पर किया जाएगा
  • 26 हजार वॉलिंटियर्स पर तीसरे चरण के ट्रायल की शुरुआत होने जा रही

ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) से मंजूरी मिलने के बाद भारत बायोटेक कोरोना की वैक्सीन के तीसरे चरण के ट्रायल की तैयारियों में जुट गई है. कंपनी ने शुक्रवार को कहा कि कोविड-19 के उसके टीके Covaxin के पहले और दूसरे चरण के ट्रायल का अंतरिम विश्लेषण सफलतापूर्वक पूरा हो चुका है. अब 26 हजार वॉलिंटियर्स पर तीसरे चरण के ट्रायल की शुरुआत की जा रही है. तीसरे चरण का ट्रायल देश के 25 से ज्यादा केंद्रों पर किया जाएगा. 

भारत बायोटेक ने एक बयान में कहा कि कंपनी को समूचे भारत में 25 से अधिक केंद्रों में 26 हजार वॉलिंटियर्स पर तीसरे चरण का ट्रायल करने की स्वीकृति मिल गई है. भारत बायोटेक वैक्सीन का निर्माण इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) के साथ मिलकर कर रही है.

'अगले तीन महीने निर्णायक साबित होने जा रहे'

इस बीच, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने शुक्रवार को कहा कि देश में कोविड-19 महामारी की स्थिति को निर्धारित करने में अगले तीन महीने निर्णायक साबित होने जा रहे हैं. उन्होंने लोगों से अपील की कि आगामी त्योहारों के दौरान और सर्दियों के मौसम में पूरी तरह से एहतियात बरतें. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि पिछले तीन महीने में देश ने कोविड-19 से निपटने में उल्लेखनीय प्रगति की है. 

देखें: आजतक LIVE TV

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि इस महामारी से निपटने के लिए उपयुक्त कदम उठाये जा रहे हैं, लेकिन अगले तीन महीने देश में कोविड-19 की स्थिति को निर्धारित करने में निर्णायक होने जा रहे हैं. यदि हमने आने वाले त्योहारों के दौरान और सर्दियों के मौसम में पर्याप्त सतर्कता बरती और कोविड-19 से जुड़े दिशा-निर्देशों का पालन किया, तो हम कोरोना वायरस का मुकाबला करने में बेहतर स्थिति में होंगे.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें