scorecardresearch
 

कोरोना: Sputnik-V के बाद रूस ने EpiVacCorona को दी मंजूरी, पुतिन ने की घोषणा

रूस ने कोरोना वायरस की दूसरी वैक्सीन EpiVacCorona को रजिस्टर्ड कर दिया है. राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने बुधवार को एक सरकारी बैठक में इसका ऐलान किया.

रूस ने कोरोना वायरस की दूसरी वैक्सीन को रजिस्टर्ड किया (फाइल फोटो) रूस ने कोरोना वायरस की दूसरी वैक्सीन को रजिस्टर्ड किया (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • रूस ने दूसरी वैक्सीन को रजिस्टर्ड किया
  • राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने की घोषणा
  • इस वैक्सीन को EpiVacCorona नाम दिया

रूस ने कोरोना वायरस की दूसरी वैक्सीन EpiVacCorona को रजिस्टर्ड कर दिया है. राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने बुधवार को एक सरकारी बैठक में इसका ऐलान किया. राष्ट्रपति पुतिन ने कहा कि हमें पहले और दूसरे टीके का उत्पादन बढ़ाने की जरूरत है. हम अपने विदेशी सहयोगियों के साथ सहयोग करना जारी रख रहे हैं और विदेशों में अपने टीके को बढ़ावा देंगे.

रूस ने पहली वैक्सीन का नाम Sputnik- V रखा है. दूसरी वैक्सीन को EpiVacCorona नाम दिया गया है. रूस ने EpiVacCorona वैक्सीन का निर्माण साइबेरिया के वर्ल्ड क्लास वायरोलॉजी इंस्टीट्यूट (वेक्टर स्टेट रिसर्च सेंटर ऑफ वायरोलॉजी एंड बायोटेक्नोलॉजी) में किया है.

वेक्टर स्टेट रिसर्च सेंटर ऑफ वायरोलॉजी एंड बायोटेक्नोलॉजी ने कोरोना वायरस की 13 संभावित वैक्सीन पर काम किया था. लैब में जानवरों पर इन वैक्सीन की जांच की गई थी.

देखें: आजतक LIVE TV

रूस ने दावा किया था कि उसकी पहली वैक्सीन में जिस तरह के साइड इफेक्ट्स थे, वो दूसरी वैक्सीन में नहीं हैं. यह वैक्सीन बेहद खुफिया तरीके से बनाई गई है. रूस ने दुनिया की पहली कोविड-19 वैक्सीन का रजिस्ट्रेशन 11 अगस्त को कराया था.

यह काफी विवादों में रही क्योंकि तीसरे चरण का ट्रायल पूरा होने से पहले ही इसे लॉन्च कर दिया गया. उधर, रूस EpiVacCorona को नवंबर में लॉन्च कर सकता है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें