scorecardresearch
 
कोरोना

महाराष्ट्र: कोरोना से हुईं मौतें, एक ही चिता पर 8 लोगों का किया गया अंतिम संस्कार

एक चिता पर 8 लोगों का हुआ अंतिम संस्कार
  • 1/5

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस का संकट दिन पर दिन बढ़ता ही जा रहा है. बीड जिले में स्वराती अस्पताल के कोविड वार्ड में इलाज कर रहे आठ मरीजों की मौत हो गई. फिर उनके शवों को नगरपालिका को सौंप दिया गया. लाशों के अंतिम संस्कार के दौरान शमशान घाट से जो तस्वीरें सामने आई है, उसने हर किसी को हैरान और परेशान कर दिया. एक  चिता पर एक साथ आठ लोगों का अंतिम संस्कार किया गया. 


(फोटो- पंकज खेलकर)

एक चिता पर 8 लोगों का हुआ अंतिम संस्कार
  • 2/5

बीड का प्रशासन नागरिकों से समय-समय पर एहतियात बरतने की अपील कर रहा है. बीड जिले में अप्रैल को 716 लोग कोविड पॉजिटिव पाए गए जिसमें 361 लोगों को अस्पताल से इलाज के बाद छुट्टी दे दी गई है. 6 अप्रैल को जिले में 10 कोविड मरीजों की मौत हो गई है. प्रशासन के अनुसार अब तक कुल 672 लोगों की मौत हो चुकी है. 

एक चिता पर 8 लोगों का हुआ अंतिम संस्कार
  • 3/5

कोविड से मरने वालों में बीड के बाद अंबाजोगाई दूसरे नंबर पर है, जहां 6 अप्रैल को 161 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए. स्वामी रामानंद तीर्थ सरकारी ग्रामीण अस्पताल के कोविड वार्ड में आठ लोगों की मृत्यु हुई है. कोविड की दूसरी चरण में तीन अप्रैल तक 309 लोगों की मौत हो चुकी है. 

एक चिता पर 8 लोगों का हुआ अंतिम संस्कार
  • 4/5

अधीक्षक डॉक्टर सुकरे के मुताबिक कोविड मरिजों में ऑक्सीजन की कमी के कारण कुछ की मौत हो जाती है, जबकि मृत्यु परीक्षणों से पता चलता है कि कई मरीज गंभीर रूप से बीमार होने के बाद अस्पताल लाए गए थे. 

(प्रतीकात्मक फोटो)
  • 5/5

वहीं एक चिता पर आठ लोगों के अंतिम संस्कार किए जाने पर अंबाजोगाई नगरपालिका के प्रमुख ने कहा कि हमें जितनी जगह दी गई उसी के हिसाब से अंतिम संस्कार किया गया. पिछले साल कोविड से मरे 10 लोगों का भी एक साथ एक चिता पर अंतिम संस्कार हो चुका है. पिछले साल कोविड से मरने वाले के दाह संस्कार के लिए एक अलग कब्रिस्तान की मांग की गई थी जिसका काफी विरोध किया गया था.