scorecardresearch
 
कोरोना

कोरोना के संक्रमण से उबरने को लेकर सामने आया चीन का झूठ!

कोरोना के संक्रमण से उबरने को लेकर सामने आया चीन का झूठ!
  • 1/8
कोरोना वायरस ने सबसे पहले चीन में ही दस्तक दी थी लेकिन पिछले दो दिनों से वहां पर एक भी नया केस सामने नहीं आया है. चीन में यह भी दावा किया जा रहा है कि वहां हालात सामान्य हो गए हैं और आम जनजीवन में पूरी तरह से पटरी पर लौटने लगा है. जहां, कुछ लोग इसके लिए चीन की सराहना कर रहे हैं, वहीं कुछ रिपोर्ट्स में इसे लेकर सवाल भी खड़े किए जा रहे हैं.

कोरोना के संक्रमण से उबरने को लेकर सामने आया चीन का झूठ!
  • 2/8
कोरोना वायरस के वैश्विक संकट बनने से पहले ही चीनी नेताओं की बीमारी को लेकर पारदर्शिता ना बरतने और हालात से ठीक तरह से ना निपटने को लेकर आलोचना की जा रही थी. यहां तक कि कोरोना वायरस को लेकर सबसे पहले सतर्क करने की कोशिश करने वाले चीनी डॉक्टर को भी खामोश करा दिया गया था. 
कोरोना के संक्रमण से उबरने को लेकर सामने आया चीन का झूठ!
  • 3/8
अब ऐसा दावा किया जा रहा है कि चीन में लोग अपने काम पर लौटने लगे हैं और सभी कारोबार शुरू हो गए हैं. हालांकि कुछ व्हिसलब्लोअर्स और स्थानीय अधिकारियों का कहना है कि सरकार सुनियोजित तरीके से सच छिपा रही है.
कोरोना के संक्रमण से उबरने को लेकर सामने आया चीन का झूठ!
  • 4/8
चीन के एक मीडिया हाउस Caixan ने इसे लेकर रिपोर्ट छापी है जिसमें कहा गया है कि चीन की सरकार सब कुछ सामान्य दिखाने के लिए कई पैतरे आजमा रही है. रिपोर्ट के मुताबिक, स्थानीय कंपनियां और अधिकारी फर्जी तरीके से बिजली की खपत बढ़ाकर और अन्य तरीकों से 'बैक टु वर्क' के टारगेट को पूरा कर रहे हैं.
कोरोना के संक्रमण से उबरने को लेकर सामने आया चीन का झूठ!
  • 5/8
हाल के सप्ताह में चीन में कोरोना वायरस के मामलों में सुस्ती आई है, ऐसे में स्थानीय सरकारें कोरोना वायरस से कम प्रभावित इलाकों में कंपनियों और फैक्ट्रियों पर फिर से काम शुरू करने के लिए दबाव डाल रही हैं. कई जिला अधिकारियों को इसके लिए कठिन टारगेट भी थमा दिए गए हैं.
कोरोना के संक्रमण से उबरने को लेकर सामने आया चीन का झूठ!
  • 6/8
कंपनी के सूत्रों और स्थानीय अधिकारियों ने कैक्सन को बताया कि कोटा पूरा करने के दबाव में वे दूसरे फर्जी तरीके अपना रहे हैं. खाली ऑफिसों में लाइटें और एसी चालू रखकर, मैन्युफैक्चरिंग उपकरणों को ऑन कर और फर्जी स्टाफ रोस्टर बनाकर वे अपने आंकड़े दुरुस्त कर रहे हैं.
कोरोना के संक्रमण से उबरने को लेकर सामने आया चीन का झूठ!
  • 7/8
चीन में कारोबार बहाल होने के संकेत के तौर पर बिजली खपत के डेटा का निरीक्षण किया जा रहा है. औद्योगिक रूप से उबरने के मामले में चीन के झेझियांग प्रांत की मिसाल दी जा रही है. चीन के टॉप इकोनॉमिक प्लान के मुताबिक, 24 फरवरी को यहां 90 फीसदी से ज्यादा काम फिर से शुरू हो गया. हालांकि, यहां के एक सरकारी अधिकारी ने कैक्सन से बताया कि शनिवार से प्लांट्स को औद्योगिक मशीनों को दिन भर चलाए रखने के लिए निर्देश दिया गया है. अधिकारियों ने कंप्यूटर्स और एसी भी ऑन रखने के लिए कहा है, ये नाटक तब शुरू हुआ जब बीजिंग ने कारोबार बहाली की स्थिति का पता लगाने के लिए बिजली खपत के आंकड़ों का निरीक्षण शुरू किया. कैक्सन की रिपोर्ट के मुताबिक, कारोबारी बिजली की खपत पर भले ही थोड़ा पैसा खर्च कर लें लेकिन स्थानीय अधिकारियों से पंगा नहीं लेंगे.
कोरोना के संक्रमण से उबरने को लेकर सामने आया चीन का झूठ!
  • 8/8
वुहान में अधिकारियों ने यह दिखाने की कोशिश की है कि कोरोना वायरस संक्रमण से रिकवरी बहुत ही आसानी से हो रही है. लेकिन वहां के एक निवासी का कहना है कि जब केंद्रीय नेता खुद संक्रमण की जांच करने के लिए पहुंचते हैं तो स्थानीय अधिकारी उनके दौरे के लिए खास तरह की कोशिशें करते हैं. सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे एक वीडियो में भी क्वारंटाइन में रह रहा एक शख्स अपार्टमेंट का दौरा कर रहे एक नेता पर चिल्लाता है- सब फर्जी है, ये सब कुछ फर्जी है!