scorecardresearch
 

एक साल में सात गुना हुआ पैसा! इस कंपनी ने तो शेयरधारकों को मालामाल कर दिया 

एक साल में इस शेयर ने 600 फीसदी से ज्यादा का रिटर्न दिया है. इसकी तुलना अगर सेंसेक्स से करें तो एक साल में सेंसेक्स ने करीब 65 फीसदी का रिटर्न दिया है.

शेयरधारक मालामाल (प्रतीकात्मक तस्वीर) शेयरधारक मालामाल (प्रतीकात्मक तस्वीर)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • एथेनॉल ब्लेडिंग टेक्नोलॉजी से जुड़ी कंपनी
  • एक साल में 600% से ज्यादा बढ़ा शेयर

एथेनॉल ब्लेंडिंग टेक्नोलॉजी से जुड़ी प्राज इंडस्ट्रीज (Praj Industries) ने पिछले एक साल में अपने शेयरधारकों को मालामाल कर दिया है. इसने एक साल में 600 फीसदी से ज्यादा का रिटर्न दिया है. यानी एक साल में इसके शेयरधारकों का पैसा सात गुना हो गया है. 

पिछले साल (2020) 19 मई को इस कंपनी के शेयर 53.95 रुपये पर बंद हुए थे. बुधवार यानी 19 मई 2021 को यह शेयर 398 रुपये की ऊंचाई तक पहुंच गया. हालांकि कारोबार के अंत में यह 387.65 रुपये पर बंद हुआ.

सात गुना हुआ पैसा 

यानी करीब 13 महीने में इस शेयर ने 600 फीसदी से ज्यादा का रिटर्न दिया है. इसकी तुलना अगर सेंसेक्स से करें तो एक साल में सेंसेक्स ने करीब 65 फीसदी का रिटर्न दिया है. जिस व्यक्ति ने 19 मई, 2020 को इस शेयर में 1 लाख रुपये लगाए होंगे, बुधवार को उसकी पूंजी बढ़कर सात लाख रुपये से ज्यादा हो गई होगी. 

यही नहीं इस साल की शुरुआत से अब तक यह शेयर करीब 232 फीसदी का रिटर्न दे चुका है. कंपनी का मार्केट कैप बुधवार को बढ़कर 7,109.35 करोड़ रुपये तक पहुंच गया. 

क्या है कंपनी की खूबी 

प्रॉफिटमार्ट सिक्यूरिटीज में डायरेक्टर (रिसर्च) अविनाश गोरक्षकर बताते हैं, 'प्राज इंडस्ट्रीज एथेनॉल ब्लेंडिंग इक्विपमेंट सेक्टर की एक हाईटेक टेक्नोलॉजी सैवी कंपनी है. इसके पास फिलहाल करीब 650 करोड़ रुपये का मजबूत ऑर्डर बुक है. कंपनी 2जी एथेनॉल के अवसरों को दोहन करने में सक्षम है, जिसमें बहुत कम कंपनियां सफल हुई हैं. यह सीबीजी (कॉम्प्रेस्ड बायोगैस) स्पेस में प्रवेश कर रही है जिसकी कारोबारी संभावनाएं बहुत अच्छी हैं.' 

एयूएम कैपिटल मार्केट के रिसर्च हेड राजेश अग्रवाल कहते हैं, 'प्राज का प्रदर्शन काफी अच्छा है. चौथी तिमाही के नतीजे काफी सकारात्मक रहे हैं. सरकार अब एथेनॉल ब्लेंडिंग पर जोर दे रही है.' 

दोगुने से ज्यादा बढ़ा मुनाफा 

कंपनी ने चौथी तिमाही में करीब 52 करोड़ रुपये का शुद्ध मुनाफा कमाया है, जबकि एक साल पहले इसी अवधि में कंपनी का मुनाफा 24.86 करोड़ रुपये ही था. मार्च 2021 तक कंपनी के पास 650 करोड़ रुपये के ऑर्डर थे, जबकि एक साल पहले यह सिर्फ 222 करोड़ रुपये का था. 


कंपनी को हिंदुस्तान पेट्रोलियम से यूपी के बदायूं में एक सीबीजी प्रोजेक्ट स्थापित करने का बड़ा ऑर्डर भी मिला है. कंपनी के बोर्ड ने अपने शेयरधारकों को 31 मार्च को खत्म वित्त वर्ष के लिए 2.16 रुपये प्रति शेयर का लाभांश दिया है. 

(www.businesstoday.in के इनपुट पर आधारित) 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें