scorecardresearch
 

Buy, Sell या Hold: घबराएं नहीं, LIC के शेयरों को लेकर Experts की ये है राय

LIC कंपनी बेहद मजबूत है और इंश्योरेंस सेक्टर में लीडर है, आगे बेहतरीन ग्रोथ की उम्मीद है. क्योंकि भारत में अगले कुछ वर्षों में तेजी से इंश्योरेंस सेक्टर का विस्तार होने वाला है, और इसमें सबसे ज्यादा फायदा LIC को होने वाला है. 

X
LIC के शेयरों पर एक्सपर्ट की राय
LIC के शेयरों पर एक्सपर्ट की राय
स्टोरी हाइलाइट्स
  • इंश्योरेंस सेक्टर में लीडर है LIC कंपनी
  • आगे LIC शेयर में तेजी की अनुमान

डिस्काउंट के साथ LIC IPO की लिस्टिंग के बाद अब निवेशकों के मन में कई तरह के सवाल उठ रहे हैं, अब क्या करें, क्या नुकसान में शेयर बेचकर निकल जाएं, या फिर इंतजार करें? वहीं जिन्हें IPO में शेयर अलॉट नहीं हुए, उन्हें क्या अभी खरीदना चाहिए या फिर कुछ वक्त और इंतजार करना चाहिए? 

दरअसल, एलआईसी आईपीओ की गिरावट के साथ लिस्टिंग हुई है. करीब 9 फीसदी गिरकर BSE पर 867 रुपये पर LIC शेयरों की लिस्टिंग हुई. शेयर बाजार में गिरावट का असर LIC आईपीओ की लिस्टिंग पर पड़ा है. ऐसे में निवेशकों को देश के सबसे बड़े आईपीओ से झटका लगा है. लिस्टिंग के बाद LIC का मार्केट कैप (Market cap) 5.48 लाख करोड़ रुपये था. 

आगे तेजी की उम्मीद

हालांकि लिस्टिंग के बाद थोड़ी रिकवरी देखने को मिल रही है. जानकारों की मानें तो बाजार में सुधार के साथ ही LIC के शेयरों में तेजी देखने को मिल सकती है. लेकिन इसके लिए निवेशकों को इंतजार करना पड़ सकता है. 

Swastika Investmart के हेड रिसर्च संतोष मीणा का कहना है कि डिस्काउंट लिस्टिंग के पीछे बाजार में गिरावट एक बड़ी वजह है. कंपनी बेहद मजबूत है और इंश्योरेंस सेक्टर में लीडर है, आगे बेहतरीन ग्रोथ की उम्मीद है. क्योंकि भारत में अगले कुछ वर्षों में तेजी से इंश्योरेंस सेक्टर का विस्तार होने वाला है, और इसमें सबसे ज्यादा फायदा LIC को होने वाला है. 

उन्होंने कहा कि डिस्काउंट लिस्टिंग को लेकर बहुत ज्यादा घबराने की जरूरत नहीं हैं, लॉन्ग टर्म के लिए यह एक बेहतरीन कंपनी है. इसलिए आईपीओ निवेशकों को इसमें बने रहने की सलाह है. संतोष मीणा ने कहा कि आईपीओ निवेशक 800 रुपये के स्टॉप लॉस (Stop Loss) के साथ इस कंपनी में बने रहें. लंबी अवधि में लाभ मिलने का अनुमान है.

लंबी अवधि के लिए बने रहने की सलाह 

वहीं अगर आपने LIC IPO में अप्लाई नहीं किया था, और अलॉटमेंट में शेयर नहीं मिले. तो इस समय लंबी अवधि के लिए निवेश कर सकते हैं. एक तरह से नए निवेशक के लिए LIC IPO में निवेश के लिए एक अच्छा मौका है. उन्होंने कहा कि एक और ध्यान देने वाली बात यह है कि एलआईसी ने पिछले वित्तीय वर्ष में कोई लाभांश (Dividend) नहीं दिया था, इसलिए इस बात की बहुत अधिक संभावना है कि कंपनी इस साल एक अच्छा लाभांश घोषित कर सकती है. इसलिए निवेशकों को इसका लाभ मिल सकता है. 

इसके अलावा एंजेल वन (Angel One) के इक्विटी रिसर्च एनालिस्ट यश गुप्ता ने कहा कि फिलहाल एलआईसी के शेयर 1.08 गुना के P/EV पर कारोबार कर रहा है, जो कि दूसरी लिस्टेड प्राइवेट लाइफ इंश्योरेंस कंपनियां एचडीएफसी लाइफ, आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल लाइफ और एसबीआई लाइफ के मुकाबले सस्ते दर पर है. केवल बाजार में उतार-चढ़ाव का शेयर पर असर दिख रहा है. लंबी अवधि के लिए निवेशकों को LIC के शेयरों में बने रहने की सलाह होगी. 

वहीं ग्लोबल ब्रोकरेज फर्म (Global Brokerage) Macquarie ने न्यूट्रल रेटिंग के साथ LIC के शेयरों का टारगेट 1000 रुपये का तय किया है. ऐसे में यहां से करीब 12 फीसदी की तेजी का अनुमान लगाया जा रहा है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें