scorecardresearch
 
यूटिलिटी

कृष‍ि से जुड़ी इस कंपनी के शेयर ने 1 साल में 1 लाख के बनाए 3.14 करोड़ रुपये

शानदार रिटर्न मिला
  • 1/7

कृष‍ि सेक्टर से जुड़ी कंपनी Proseed India ने शेयर बाजार में पिछले एक साल में 31,366 फीसदी का शानदार रिटर्न दिया है. इस पेनी शेयर में अगर किसी ने एक साल पहले 1 लाख रुपये लगाया होता तो आज उसका धन करीब 3.14  करोड़ रुपये हो गया होता. (फाइल फोटो)

ऊंचाई पर शेयर
  • 2/7

इस पेनी शेयर ने पिछले एक साल में 31,366 फीसदी का शानदार रिटर्न दिया है. इसकी तुलना में इस दौरान सेंसेक्स ने करीब 35 फीसदी का ही रिटर्न दिया है. एक साल पहले यानी 18 नवंबर 2020 को यह शेयर 0.30 रुपये पर था. लेकिन इस गुरुवार यानी 18 नवंबर 2021 को यह शेयर बीएसई पर 94.40 रुपये की ऊंचाई पर पहुंच गया. (फाइल फोटो)

हाल में दिखा उतार-चढ़ाव
  • 3/7

पिछले छह महीने में भी इस शेयर ने करीब 6321 फीसदी का रिटर्न दिया है. 20 मई, 2020 को यह शेयर महज 1.47 रुपये का था. हालांकि इस स्मॉलकैप शेयर में पिछले हफ्ते चार दिन के सत्र में करीब 18 फीसदी की गिरावट आई. बीएसई पर 12 नवंबर शुक्रवार को यह शेयर 115.8 रुपये पर बंद हुआ था, इसके बाद गुरुवार 18 नवंबर को यह शेयर 94.40 रुपये पर बंद हुआ. शुक्रवार 19 नवंबर को गुरु पूर्ण‍िमा की वजह से शेयर बाजार बंद था. (फाइल फोटो)

यह पेनी शेयर है
  • 4/7

पेनी शेयर अक्सर उसे माना जाता है जिसकी कीमत 10 रुपये या उससे कम हो. Proseed India का शेयर 100 दिन, 200 दिन के मूविंग एवरेज के ऊपर चल रहा है, हालांकि यह 5 दिन, 20 दिन और 50 दिन के मूविंग एवरेज से नीचे है. गुरुवार को इसका मार्केट कैप गिरकर 973.22 करोड़ रुपये रहा. (फाइल फोटो)

एग्री कारोबार में लगी है कंपनी
  • 5/7

क्या करती है कंपनी: यह कंपनी एग्री कमोडिटीज के ट्रेडिंग और सीड कारोबार में लगी है. यह कई तरह के बीज और सब्जियों के लिए रिसर्च, डेवलपमेंट, उत्पादन, प्रसंस्करण, मार्केटिंग और व्यापार में लगी हुई है. कंपनी की स्थापना 1991 में हुई थी और इसका मुख्यालय हैदराबाद में है. (फाइल फोटो: www.proseedindia.in/)

सलाहकार से राय लें
  • 6/7

रहना होगा सचेत: पेनी शेयरों में कई बार शानदार रिटर्न मिलता है, लेकिन ऐसे शेयरों में निवेश से पहले आपको काफी सचेत भी रहने की जरूरत है. इन शेयरों में प्रमोटर की हिस्सेदारी बहुत ज्यादा होती है इसलिए इनमें मैनिपुलेशन करना भी आसान होता है. सितंबर तिमाही में इस कंपनी में पब्लिक शेयर होल्डर्स का हिस्सा महज 3 फीसदी था. यानी प्रमोटर्स की हिस्सेदारी 97 फीसदी थी. इसलिए ऐसे किसी भी शेयर में निवेश से पहले आपको सेबी में रजिस्टर्ड किसी वित्तीय सलाहकार से राय जरूर लेनी चाहिए. (फाइल फोटो: Getty Images)

वित्तीय प्रदर्शन ठीक नहीं
  • 7/7

पिछले छह महीने का इस शेयर का शानदार प्रदर्शन इसके वित्तीय प्रदर्शन से मेल नहीं खाता. इसलिए इस शेयर में निवेश करते समय सतर्क रहने की भी जरूरत है. सितंबर 2021 में कंपनी का घाटा बढ़कर 0.46 करोड़ रुपये पहुंच गया, जबकि एक साल पहले की समान तिमाही में कंपनी को 0.09 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था. (फाइल फोटो)