scorecardresearch
 
यूटिलिटी

Investment Tips: निवेश और बचत करते वक्त ध्यान रखें ये बातें, नहीं होगी पैसों की टेंशन!

प्लान बनाकर इन्वेस्ट करने में समझदारी
  • 1/7

प्लान बनाकर इन्वेस्ट करने में समझदारी
हर कोई चाहता है कि वो छोटी-बड़ी बचत के जरिए भविष्य के लिए फंड जमा करे, ताकि आगे चलकर वित्तीय परेशानियों का सामना ना करना पड़े. लोग इसके लिए खर्चों में कटौती करते हैं, लेकिन कभी-कभार अचानक आए भारी भरकम खर्च से आर्थिक स्थिति पर असर पड़ता है. कोरोना काल में इस बात को शायद हर इंसान समझ चुका है. हम आपको कुछ खास टिप्स बता रहे हैं, जिन्हें अगर आप निवेश या बचत करते समय अपनाएंगे, तो आपको किसी भी फाइनेंशियल परेशानी से निजात मिल सकती है और आप भविष्य के लिए पैसे जमा कर सकते हैं. 

 ज्यादा रिटर्न देने वाले विकल्पों में लगाए पैसा
  • 2/7

ज्यादा रिटर्न देने वाले विकल्पों में लगाए पैसा
सबसे पहले बात कर लेते हैं निवेश के बारे में. तो अगर आप सिर्फ एफडी या पीपीएफ जैसे पारंपरिक निवेश विकल्पों में निवेश करते हैं, तो ध्यान रखें इन योजनाओं पर आमतौर पर आपको एक ही तरह का रिटर्न मिलता रहता है. ऐसे में आपको निवेश के ऐसे विकल्पों पर ध्यान देना जहां ज्यादा रिटर्न मिले. जैसे म्यूचुअल फंड में एसआईपी के जरिए निवेश से फायदा हो सकता है. 

निवेश से पहले पूरी जांच-पड़ताल
  • 3/7

निवेश से पहले पूरी जांच-पड़ताल
आपको अपने लिए फंड इकठ्ठा करने के लिए ज्यादातर उन्हीं स्कीम पर अपनी सेविंग्स को खर्च करना होगा, जहां गारंटेड और अच्छे रिटर्न की उम्मीद हो. ऐसे में अगर आप शेयर बाजार में निवेश करने का मन बना रहे हैं, तो किसी भी कंपनी या ब्रांड के शेयरों में निवेश से पहले उस कंपनी के कारोबार के बारे में जांच-पड़ताल कर लें. उसके रिटर्न के डाटा पर एक नजर जरूर डालें. 

समय पर और नियमित निवेश करें
  • 4/7

समय पर और नियमित निवेश करें 
अगर आपको आर्थिक रूप से समृद्ध होना है, तो इसके लिए महंगाई को ध्यान में रखते हुए फंड जुटाने के बारे में सोचना होगा. इस बात का ध्यान रखें कि जिस तेजी से महंगाई बढ़ रही है, आपके निवेश का जरिया उसी हिसाब से या फिर उससे अधिक का रिटर्न देने में सक्षम हो. यहां एक बात और गांठ बांध लें कि निवेश के बारे में सिर्फ सोच-विचार ना करते रहें. जितनी जल्दी निवेश शुरू करेंगे, उतना अधिक रिटर्न पाएंगे. इस तरह, आप फंड जुटाने और फाइनेंशियली फिट रहने में सक्षम होंगे. 

लक्ष्य बनाकर करें पैसों का इन्वेस्ट
  • 5/7

लक्ष्य बनाकर करें पैसों का इन्वेस्ट 
वेल्थ क्रिएट करने का सबसे अच्छा फंडा ये है कि आप एक लक्ष्य निर्धारित करके निवेश और बचत के बारे में कदम आगे बढ़ाएं. कोशिश करें कि किसी भी परिस्थिति में आप इस लक्ष्य से डगमगाएं नहीं. इसके अलावा अपने किए गए सभी तरह के निवेशों की समय-समय पर जांच करते रहना भी जरूरी है कि उनसे आपके लक्ष्य के मुताबिक रिटर्न मिल पा रहा है या नहीं. ऐसा ना होने पर विकल्प बदलने पर भी ध्यान देना चाहिए. 

खर्च की लिमिट तय करें
  • 6/7

खर्च की लिमिट तय करें
विशेषज्ञों की मानें तो खर्च की लिमिट तय करना भी बेहद जरूरी है. कभी-कभी देखने को मिलता है कि अचानक आए किसी खर्च या फिर त्योहार पर ज्यादा खर्च होने से बजट गड़बड़ा जाता है. ऐसे में जरूरी है कि अपनी सैलरी का एक हिस्सा बचत करके रखना जरूरी है. विशेषज्ञ इस बात की सलाह देते हैं कि अगर आप पेशेवर हैं तो सैलरी का 60 से 70 फीसदी हिस्सा ही विभिन्न खर्चों में लगाएं. बाकी के पैसे निवेश करें, ताकि जरूरत के समय ये बचत आपके काम आ सके. 

कर्ज के जाल में फंसने से बचें
  • 7/7

कर्ज के जाल में फंसने से बचें 
आज तकनीकी युग में जैसे-जैसे आमदनी में इजाफा हुआ है, खर्चे भी बढ़ते जा रहे हैं. लोग अपने कई कामों के लिए बैंक या क्रेडिट कार्ड के जरिए कर्ज या लोन लेकर जरूरतें पूरा करते हैं. आपका वित्तीय लक्ष्य प्रभावित ना हो इसके लिए उतना ही कर्ज लें, जिसे आप तय समय में आसानी से चुका सकें. यह आपकी वित्तीय सेहत के लिए बेहद जरूरी है. इसके अलावा निवेश के साथ अपने पास कुछ इमरजेंसी फंड जरूर रखें.