scorecardresearch
 
यूटिलिटी

Paytm का IPO होगा इतने करोड़ का, पहले 21,800 करोड़ जुटाने का था प्लान!

Paytm IPO से जुड़ी अटकलों पर विराम
  • 1/9

डिजिटल पेमेंट कंपनी Paytm का IPO इस साल नवंबर में आने की उम्मीद है. माना जा रहा था कि ये IPO 20,000 करोड़ से ज्यादा का होगा. लेकिन अब कंपनी ने सेबी के पास आईपीओ लाने से जुड़े अनिवार्य दस्तावेज (DHRP) जमा करा दिए हैं और इसके बाद IPO के साइज से जुड़ी अटकलों पर विराम लग गया है. (File Photo)

Paytm IPO 16,600 करोड़ का
  • 2/9

सेबी के पास जमा कराए दस्तावेजों के हिसाब से Paytm का IPO 16,600 करोड़ रुपये होगा. पहले ब्लूमबर्ग ने खबर दी थी कि कंपनी की योजना आईपीओ से 21,800 करोड़ रुपये जुटाने की है. (Photo : Getty)

देश का सबसे बड़ा IPO
  • 3/9

विजय शेखर शर्मा की Paytm का ये आईपीओ देश में अब तक का सबसे बड़ा शेयर मार्केट डेब्यू होगा. इससे पहले सरकारी कंपनी कोल इंडिया ने IPO से 15,000 करोड़ रुपये जुटाए थे. (File Photo)

25-30 अरब डॉलर के वैल्यूएशन का लक्ष्य
  • 4/9

Paytm का लक्ष्य इस IPO से अपना मार्केट वैल्यूएशन 25-30 अरब डॉलर (करीब 1,815 से 2,180 अरब रुपये) करने का है. Paytm में विजय शेखर शर्मा, सॉफ्टबैंक विजन फंड और अलीबाबा के एंट ग्रुप का निवेश है. (File Photo)

इश्यू होंगे इतने करोड़ के नए शेयर
  • 5/9

Paytm के IPO में शेयरों को ‘ऑफर फॉर सेल’ के लिए तो रखा ही जाएगा. साथ ही कंपनी 1 रुपये की फेस वैल्यू वाले 8,300 करोड़ रुपये तक के नए शेयर जारी करेगी. जबकि मौजूदा शेयर होल्डर इतने करोड़ के शेयर ही ऑफर फॉर सेल के लिए रखेंगे. सेबी के नियम के मुताबिक किसी भी लिस्टेड कंपनी को अपने 10% आईपीओ लाने के बाद 2 साल के भीतर और 25% शेयर 5 साल के अंदर जारी करने होते हैं. (Photo : Getty)

किसकी कितनी हिस्सेदारी Paytm में
  • 6/9

Paytm में अलीबाबा के एंट ग्रुप की 29.71%, सॉफ्टबैंक विजन फंड की 19.63%, सैफ पार्टनर्स की 18.56% और विजय शेखर शर्मा की 14.67% हिस्सेदारी है. इसके अलावा एजीएच होल्डिंग, टी. रोवे प्राइस एंड डिस्कवरी कैपिटल और बर्कशायर हैथवे का भी निवेश है. (Photo : Getty)

विजय शेखर नहीं होंगे प्रमोटर
  • 7/9

Paytm के पीछे का पूरा दिमाग और उसे इस मुकाम तक लाने का काम विजय शेखर शर्मा ने किया है. लेकिन अब वो Paytm के प्रमोटर के तौर पर नहीं पहचाने जाएंगे. SEBI के नए नियम के मुताबिक किसी भी लिस्टेड कंपनी के प्रमोटर के पास आईपीओ लाने के बाद पूंजी का कम से कम 20% होना चाहिए. जबकि अभी शर्मा के पास कंपनी की 14.8% हिस्सेदारी है. (Photo : India Today Archive)

अब भी घाटे में है Paytm
  • 8/9

Paytm की वैल्यूएशन भले अरबों रुपये में हो. लेकिन कंपनी अभी भी लगातार घाटे में बनी हुई है. 2020-21 में कंपनी का घाटा 1,701 करोड़ रुपये रहा है, हालांकि ये 2019-20 के मुकाबले घटा है. 2019-20 में कंपनी का घाटा 2,942 करोड़ रुपये था. 

Paytm कई क्षेत्रों में करती है काम
  • 9/9

मोबाइल वॉलेट सेवा से शुरुआत करने वाली Paytm हाल के वर्षों में एक बड़ी फिनटेक कंपनी बनकर उभरी है. अब ये पेमेंट बैंकिंग, क्रेडिट कार्ड, वित्तीय सेवा, वेल्थ मैनेजमेंट और डिजिटल पेमेंट कंपनी के तौर पर काम करती है. इसके अलावा कंपनी ने हाल ही में मोबाइल गेमिंग में भी कदम रखा है.
(File Photo)