scorecardresearch
 
यूटिलिटी

टोल प्लाजा पर अगर वेटिंग की लाइन है इतनी लंबी, तो Free में पास होगी गाड़ी!

गाड़ी वालों के लिए राहत की खबर
  • 1/5

पेट्रोल और डीजल की ऊंची कीमतों ने लोगों को वैसे ही हलकान किया हुआ है. लेकिन ये खबर गाड़ी चलाने वालों के लिए बहुत राहत भरी है. भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) की नई गाइडलाइन के हिसाब से टोल प्लाजा पर अगर आपकी गाड़ी वेटिंग लाइन में है और वो एक निश्चित दूरी तक की गाड़ियों को बूथ से Free पास किया जाएगा. (Photos: Getty/PTI)

100 मीटर तक की दूरी वाली गाड़ियों को मुफ्त पास
  • 2/5

NHAI की नई गाइडलाइन कहती है कि यदि टोल प्लाजा पर गाड़ियों की वेटिंग लाइन है तो बूथ से 100 मीटर दूर तक खड़ी गाड़ियों को बिना किसी शुल्क के गुजारा जाएगा. ये काम तब तक होगा जब तक वेटिंग की लाइन 100 मीटर के दायरे में नहीं आ जाती.
 

100 मीटर मार्क के लिए खिंचेगी पीली लाइन
  • 3/5

टोल बूथ पर वेटिंग टाइम को कम करने और ट्रैफिक के आसानी से गुजरने के लिए NHAI ने नियमों में ये बदलाव किया है. टोल बूथ पर वेटिंग को 100 मीटर तक सीमित करने के लिए हर लेन में बूथ से 100 मीटर की दूरी पर एक पीली लाइन खींची जाएगी अगर वेटिंग लाइन इस लाइन के पार चली जाती है तो आगे खड़ी गाड़ियों को बूथ से Free पास करने दिया जाएगा ताकि वेटिंग लाइन इस मार्क के अंदर रहे.

Fastag पर भी नहीं कटेगा शुल्क
  • 4/5

देश में हाईवे पर यात्रा करने के लिए इस साल फरवरी से Fastag अनिवार्य हो गया है. देश के अधिकतर टोल प्लाजा पर 96% कलेक्शन अब Fastag से हो रहा है, जबकि कुछ इलाकों में ये 99% तक हो चुका है. ऐसे में 100 मीटर तक की दूरी पर वेट कर रहे वाहनों को जब टोल बूथ से Free में गुजारा जाएगा तो उनके Fastag से भी कोई राशि नहीं कटेगी. इसी के साथ NHAI ने एक कार को टोल बूथ क्रॉस करने में कितना समय लगना चाहिए उसकी भी सीमा तय की है.
(Photo : PTI)

मात्र 10 सेकेंड में पार होगा बूथ
  • 5/5

इतना ही नहीं टोल प्लाजा पर ट्रैफिक मूवमेंट को तेज करने के लिए NHAI ने नियम बनाया है कि टोल बूथ पर हर गाड़ी को मात्र 10 सेकेंड में पास करना होगा. देश में अधिकतर वाहनों पर Fastag लग चुका है, उसके बावजूद कई जगहों पर टोल बूथ पर गाड़ी को पास करने में ज्यादा वक्त लगता है और वेटिंग लाइन भी दिखती हैं. इसे खत्म करने के लिए NHAI ने ये नियम बनाया है. टोल बूथ ऑपरेटर को 10 सेकेंड की समयसीमा का पालन पीक ऑवर में भी करना होगा.
(Photo : PTI)